जागरण संवाददाता, फतेहाबाद : सिरसा में मंदबुद्धि लोगों की देखभाल करने वाले भाई कन्हैया आश्रम के संचालक की अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने के आरोपित दंपती को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपितों से चार लाख रुपये की नकदी भी बरामद कर ली है। पीड़ित ने दो लाख रुपये पहले ही दे दिए। पुलिस ने आरोपितों से पूछताछ की तो आरोपितों से चार लाख रुपये बरामद हो गए है। अब पुलिस आरोपितों को कोर्ट में पेश करेगी।

पुलिस को दी शिकायत में सिरसा के भाई कन्हैया आश्रम के संचालक गुरविंदर सिंह ने बताया कि कई साल पहले उसके साथ सड़क हादसा हो गया। इस कारण शरीर का आधा हिस्सा काम नहीं कर रहा। पिछले 17 सालों से वह मंदबुद्धि लोगों के लिए सिरसा में भाई कन्हैया आश्रम चला रहे हैं। इस आश्रम में 20 से अधिक लोग काम कर रहे है। जिसमें 15 महिलाएं शामिल है। उसने बताया कि दरियापुर से एक महिला भी इस आश्रम में बतौर नर्स काम करती है। कई साल पहले जब उसके साथ हादसा हो गया तो यही नर्स उसकी देखभाल कर रही है। गुरविंद्र ने बताया कि महिला अपने पति को इस आश्रम में मैनेजर रखवाना चाहती थी, लेकिन जब उसने मना कर दिया तो वह रंजिश रखने लगी।

आरोप लगाया कि 16 जनवरी को दंपती उसके घर आए। महिला ने उसके साथ अश्लील वीडियो बनाई। वीडियो बनाने का काम उसके पति ने किया। वह अशक्त होने के कारण विरोध भी नहीं कर सका। आरोपितों ने वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल करने की चेतावनी दी। इस दौरान दो लाख रुपये मांगे। इसकी जानकारी उसने अपने दोस्त हरदेव को दी।

हरदेव ने 2 लाख रुपये दे दिए। लेकिन आरोपित उससे और रुपये की मांग की। पीड़ित ने इसकी शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने तय समय अनुसार आरोपितों को बुला लिया। जैसे ही दंपती को 2 लाख रुपये दिए तो सदर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपितों से चार लाख रुपये भी बरामद कर लिया है। सदर थाना प्रभारी जगजीत सिंह ने बताया कि दंपती को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा।

Edited By: Manoj Kumar