जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: खेल निदेशक कार्यालय खिलाड़ियों के खेल ग्रेडेशन सर्टिफिकेट की जांच करा रहा है। जांच कमेटी हर जिले में जांच कर रही है। चार सदस्यीय कमेटी बनाई गई है जो प्रदेश के सभी जिलों में बने खेल ग्रेडेशन की जांच कर रही है। मंगलवार को जांच कमेटी गुरुग्राम पहुंची थी। कमेटी में खेल उप निदेशक गिरीराज सिंह, उप निदेशक सतबीर और कार्यालय अन्य स्टाफ जगदीश व रमेश शामिल हैं। गिरीराज सिंह का कहना है कि खेल ग्रेडेशन सी और डी जिला स्तर पर बनते हैं। उन सभी की जांच की जा रही है और यह सामान्य जांच है। विभाग अपने रिकार्ड के लिए जांच कर रहा है।

दरअसल जांच कमेटी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है लेकिन बताया जा रहा है कि कुछ जिलों में ग्रेड सी, डी के ग्रेडेशन सर्टिफिकेट बनाने में धांधली हुई है और उनकी शिकायत हुई है। इसके बाद उन जिलों की पहले जांच की गई है जहां की शिकायत हुई थी। बाद में सभी जिलों में कमेटी से जांच कराने के आदेश हुए।

बता दें कि ग्रेड ए और बी स्तर के ग्रेडेशन सर्टिफिकेट चंडीगढ़ निदेशक कार्यालय में बनाए जाते हैं और ग्रेड सी व डी के जिला स्तर पर बनाए जाते हैं। ग्रेड सी व डी ग्रेडेशन सर्टिफिकेट के खिलाड़ी को ग्रुप सी व डी ग्रुप की नौकरी मिलती है और इन्हीं में धांधली अधिक होने की संभावना बनी रहती है। अब जांच के बाद स्थिति स्पष्ट होगी कि कहां-कहां पर धांधली हुई है या नहीं हुई है।

Edited By: Jagran