संवाद सहयोगी, पटौदी: कांग्रेस नेता राव अर्जुन ¨सह ने अपने ताऊ व केंद्रीय राज्य मंत्री राव इंद्रजीत ¨सह को लेकर फिर तंज कसा है। उन्होंने कहा है कि केंद्रीय मंत्री महलों की राजनीति करते हैं। क्षेत्र की जनता से उनका कोई सरोकार नहीं है। चुनाव जीतने के चार वर्ष बाद तक उन्हें अपनी जनता की याद नहीं आती, लेकिन चुनाव करीब आते ही यह कहते हैं कि मुख्यमंत्री उनकी सुनते ही नहीं।

राव अर्जुन ¨सह रविवार शाम पटौदी के अंबेडकर भवन में आयोजित कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत कर रहे थे। उक्त कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि जो नेता जनता के काम न करवा सके, उसे सन्यास ले लेना चाहिए और युवा पीढ़ी को मौका देना चाहिए।

बता दें कि अर्जुन ¨सह राव इंद्रजीत के सगे छोटे भाई अजीत ¨सह के पुत्र हैं। उन्होंने कहा कि राव इंद्रजीत ¨सह के पास केवल ठेकेदार हैं। वह तीसरी पीढ़ी के कार्यकर्ताओं को तो पहचानते तक नहीं है। असली कार्यकर्ता रामपुरा हाउस के साथ हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि भाजपा राव इंद्रजीत ¨सह सहित वर्तमान सात सांसदों का रिपोर्ट कार्ड अच्छा न होने के कारण उन्हें पुन: टिकट देने वाली नहीं है। लेकिन राव इंद्रजीत ¨सह को भाजपा टिकट मिली भी एवं कांग्रेस ने उनके पिता राव अजीत ¨सह को गुरुग्राम लोकसभा क्षेत्र से टिकट दे दी तो राव इंद्रजीत ¨सह के पास दरी बिछाने वाले कार्यकर्ता भी नहीं मिलेंगे। राव की झज्जर एवं महेंद्रगढ जनसभाओं को लेकर उन्होंने कहा कि ये राव इंद्रजीत ¨सह का अपनी टिकट पक्की करने को लेकर प्रयास मात्र है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस में शामिल होते समय उन्हें आश्वासन दिया गया था कि पटौदी, बावल एवं अटेली सीटे पर टिकट उनके परामर्श पर दी जाएंगी।

उन्होंने भाजपा पर दक्षिणी हरियाणा की उपेक्षा का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार ने मनेठी में एम्स, बिनाला में रक्षा विश्वविद्यालय, पटौदी में बाई पास तथा महिला कालेज आदि का एक भी वादा पूरा नहीं किया। 12 अगस्त की पटौदी की जनसभा में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सुरजेवाला मुख्य अतिथि के रूप में भाग लेंगे। इस अवसर पर प्रदीप एडवोकेट, अनिल यादव, राहुल यादव, महेंद्र, कृष्ण यादव, ठाकुर बेअंत ¨सह, प्रकाश सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

Posted By: Jagran