Move to Jagran APP

Gurugram News: खुशखबरी! इस तारीख तक अब तैयार हो जाएगा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, पढ़ें लेटेस्ट अपडेट

गुरुग्राम जिले में बन रहे श्री शीतला माता देवी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल मार्च 2025 तक बनकर तैयार हो जाएगा। अस्पताल का करीब 48 फीसदी काम पूरा हो चुका है। बाकी कामों में रफ्तार बढ़ाई जा रही है। इसका निर्माण कार्य एक अप्रैल 2022 को शुरू किया गया था। जबकि 31 जुलाई 2024 पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था। जानें अस्पताल में क्या-क्या होंगी सुविधाएं।

By Sandeep Kumar Edited By: Monu Kumar Jha Wed, 12 Jun 2024 08:19 PM (IST)
Gurugram: सेक्टर 102 में मेडिकल कॉलेज और अस्पताल का निर्माणाधीन टीचिंग अस्पताल और ट्रामा सेंटर। जागरण

संदीप रतन, गुरुग्राम। (Gurugram Hindi News) शहर में श्री शीतला माता देवी मेडिकल कालेज और अस्पताल मार्च 2025 में बनकर तैयार हो जाएगा। शहर के खेड़की माजरा सेक्टर 102 में निर्माणाधीन मेडिकल कालेज और अस्पताल का 47.50 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। अकेडमिक ब्लॉक, टीचिंग अस्पताल और ट्रामा सेंटर का स्ट्रक्चर बनकर तैयार हो चुका है।

प्रोजेक्ट के बाकी हिस्से का भी निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। इस बिल्डिंग का निर्माण कार्य एक अप्रैल 2022 काे शुरू किया गया था और 31 जुलाई 2024 पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था। तय समय में काम पूरा नहीं होने पर अब अंतिम डेडलाइन 31 मार्च 2025 निर्धारित की गई है। 29 जून 2017 को तत्कालीन मुख्यमंत्री ने गुरुग्राम में मेडिकल कोलज और अस्पताल के निर्माण की घोषणा की थी।

जीएमडीए के अधिकारियों का दावा है कि बिल्डिंग निर्माण सहित अन्य कार्य पूरा होते ही इसे शुरू कर दिया जाएगा। मेडिकल कालेज और अस्पताल बनने से गुरुग्राम सहित पूरे दक्षिण हरियाणा के जिलों के लोगों को भी इसका लाभ मिलेगा।

बता दें कि गुरुग्राम शहर में फिलहाल एक जिला नागरिक अस्पताल है। लेकिन इसमें भी चिकित्सा सुविधाएं न के बराबर है और मजबूरन लोगों को बड़े प्राइवेट अस्पतालों में जाना पड़ रहा है। शहर की 30 लाख आबादी पर एक सरकारी अस्पताल है।

मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में यह सुविधाएं होगी

ट्रामा सेंटर

टीचिंग ब्लॉक

अस्पताल

गर्ल्स हॉस्टल

ऑटोप्सी

रेजिडेंट हॉस्टल

अकादमिक ब्लॉक

नर्स हॉस्टल

शॉपिंग कांप्लेक्स

यूजी ब्वॉयज हास्टल

कॉलेज में होगी 150 सीट 

मेडिकल कॉलेज की शुरुआत 150 सीटों से होगी, जिसे कुल 250 सीटी तक बढ़ाया जा सकेगा। सेक्टर 102 में निर्माण स्थल पर मेडिकल सुविधाओं के साथ पहले चरण में ओपीडी ब्लॉक का निर्माण कार्य शुरू किया था।

प्रोजेक्ट की खास बातें

12 जनवरी 2022 को वर्क अलॉट किया गया था।

1 अप्रैल 2022 को निर्माण कार्य शुरू हुआ था।

31 जुलाई 2024 तक काम पूरा किया जाना था।

31 अक्टूबर 2024 इसकी संशोधित डेडलाइन (निर्माण कार्य पूरा करने की) निर्धारित की गई।

31 मार्च 2025 का लक्ष्य अब बिल्डिंग निर्माण पूरा करने का रखा गया है।

31 मई 2024 तक 248.25 करोड़ रुपये निर्माण पर खर्च हो चुके हैं।

541.82 करोड़ रुपये प्रोजेक्ट की कुल लागत है।

30.08 एकड़ का है प्रोजेक्ट

इस प्रोजेक्ट में एक मेडिकल कालेज, एक 883 बेड वाला अस्पताल और एक अकादमिक ब्लाक के साथ-साथ छात्रावास और घरों के रूप में आवासीय सुविधाएं शामिल हैं। तकनीकी रूप से परिसर और इसकी इमारतों को सूचना प्रौद्योगिकी, अस्पताल प्रबंधन और भवन प्रबंधन प्रणाली, सीसीटीवी और सुरक्षा की नवीनतम सुविधाओं के साथ-साथ डिजाइन और निर्माण में अन्य सुविधाओं के साथ योजना तैयार की गई है।

मेडिकल कॉलेज और अस्पताल की बिल्डिंग का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है और मार्च 2025 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

विकास मलिक, एक्सईएन जीएमडीए