Move to Jagran APP

Murder: 24 घंटे में खुला निखिल की हत्या का राज, बीयर पार्टी के बहाने से बुलाया; फिर दर्दनाक तरीके से उतारा था मौत के घाट

Murder Case गुरुग्राम में हुई निखिल की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस की जांच में सामने आया कि निखिल को बीयर पिलाने के बहाने बुलाकर ले गए और फिर दर्दनाक तरीके से उसकी हत्या कर दी गई थी। बुधवार शाम को निखिल की लहूलुहान हालत में लाश मिली थी। पढ़िए आखिर पूरा मामला क्या है?

By Vinay Trivedi Edited By: Kapil Kumar Thu, 11 Jul 2024 06:31 PM (IST)
पुलिस ने निखिल की हत्या का खुलासा किया है। (जागरण फोटो)

जागरण संवाददाता, गुरुग्राम। इंस्टाग्राम पर लड़की से दोस्ती के बाद उससे और दोस्त से दुव्यर्वहार करने पर नाबालिग दोस्त ने किशोर की गला काटकर हत्या कर दी। नाबालिग आरोपित ने गले और पेट पर कई बार चाकू से वार किए।

पुलिस के अनुसार, किशोर का शव सेक्टर 40 में मकान नंबर 1040 के सामने बुधवार देर रात बरामद किया गया था। केस दर्ज होने के बाद थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने 16 घंटे में ही पर्दाफाश कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया।

सेक्टर 40 थाना प्रभारी इंस्पेक्टर मनोज कुमार ने बताया कि बुधवार देर रात 11 बजे कंट्रोल रूम में एक किशोर के लहूलुहान हालत में पड़े होने की जानकारी मिली थी। थाना पुलिस घायल अवस्था में उसे नागरिक अस्पताल लेकर पहुंची। यहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

इसके बाद पुलिस टीम के उच्च अधिकारी, सीन आफ क्राइम टीम, एफएसएल व फिंगर प्रिंट की टीमों ने घटनास्थल पर पहुंच कर जांच शुरू की। आसपास के सीसीटीवी कैमरे के फुटेज देखे गए। जांच के दौरान किशोर की पहचान सेक्टर 39 झाड़सा गांव निवासी 16 वर्षीय निखिल के रूप में की गई। उसके गले पर कट और पेट में गहरे घाव के निशान थे।

वहीं, केस दर्ज करने के बाद थाना पुलिस और सेक्टर 40 क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम ने सीसीटीवी फुटेज व अन्य माध्यमों से आरोपित की पहचान कर उसे गुरुवार दोपहर रेवाड़ी से पकड़ लिया। आरोपित 15 वर्षीय नाबालिग है।

दोस्त के सामने लड़की को मारा था थप्पड़

पुलिस पूछताछ में पता चला कि निखिल और आरोपित दोनों गांव झाड़सा में रहते थे। दोनों की दोस्ती इंस्टाग्राम पर भी थी।

निखिल की पिछले डेढ़ साल से इंस्टाग्राम पर एक लड़की से दोस्ती थी। निखिल जब उससे मिलने जाता था तो कई बार आरोपित को भी साथ ले गया। लड़की ने आरोपित से भी बात शुरू कर दी। कुछ दिन पहले लड़की को पता चला कि निखिल किसी और लड़की से भी बात करता है, इसके बाद भी वह बात करती रही। इस बीच निखिल ने लड़की से दुव्यर्वहार करना शुरू कर दिया। उसने मारपीट भी की।

बताया गया कि एक बार जब आरोपित निखिल के साथ लड़की से मिलने पहुंचा तो उस दौरान भी निखिल ने एक थप्पड़ उस लड़की को मार दिया। विरोध करने पर निखिल ने दोस्त के साथ भी दुव्यर्वहार किया। इसी रंजिश में आरोपित ने हत्या की साजिश रची। साजिश को अंजाम देने के लिए आरोपित ने नौ जुलाई को 150 रुपये में चाकू खरीदा।

बीयर पीने के बहाने ले गया आरोपित

निखिल का परिवार मूल रूप से मध्य प्रदेश के छतरपुर का रहने वाला है। 15 साल पहले परिवार गुरुग्राम आया था। निखिल के पिता राजकुमार श्रमिक हैं। पिता ने बताया कि बुधवार रात साढ़े नौ बजे निखिल घर पर ही था।

वहीं साजिश के तहत आरोपित दोस्त करीब दस बजे बीयर पीने के बहाने उसे घर से बुलाकर ले गया। आरोपित सूनसान जगह पर निखिल को चाकू मारकर फरार हो गया। उसने दौड़कर अपनी जान बचानी चाही, लेकिन वह बीच रास्ते ही गिर गया। परिवारवालों ने बताया कि निखिल टेंट हाउस में वेटर का काम करता था।

दो सौ मीटर दूर पत्थर के नीचे छिपाया चाकू

वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपित ने दो सौ मीटर दूर बड़े पत्थर के नीचे चाकू को छिपा दिया था। पूछताछ के दौरान पुलिस ने आरोपित की निशानदेही पर चाकू को गुरुवार दोपहर बरामद कर लिया। आरोपित का परिवार मूल रूप से रेवाड़ी का रहने वाला है। वह इस समय 11वीं कक्षा का छात्र था। उसका पिता सीवर सफाई का काम करता है।

क्या बोले अधिकारी...

बुधवार देर रात किशोर की हत्या की जानकारी मिली थी। पुलिस टीमों ने बेहतर काम कर नाबालिग आरोपित को गिरफ्तार किया है। शुक्रवार को उसे जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड के समक्ष पेश किया जाएगा। फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है। - डॉ. मयंक गुप्ता, डीसीपी ईस्ट