Move to Jagran APP

गुरुग्राम में अरावली ग्रीन वाल प्रोजेक्ट से मिलेगी शुद्ध हवा, पीएम मोदी ड्रीम प्रोजेक्ट में है शामिल

PM नरेन्द्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल अरावली ग्रीन वाल प्रोजेक्ट की शुरुआत शनिवार को हो चुकी है। प्रोजेक्ट का शुभारंभ केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने पौधारोपण कर किया। प्रोजेक्ट के तहत दिल्ली से लेकर गुजरात तक अरावली पहाड़ी के दोनों तरफ पौधारोपण के ऊपर जोर दिया जाएगा।

By Aditya RajEdited By: Nitin YadavPublished: Sat, 25 Mar 2023 03:30 PM (IST)Updated: Sat, 25 Mar 2023 03:30 PM (IST)
गुरुग्राम में अरावली ग्रीन वाल प्रोजेक्ट से मिलेगी शुद्ध हवा, पीएम मोदी ड्रीम प्रोजेक्ट में है शामिल।

गुरुग्राम, जागरण संवाददाता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल अरावली ग्रीन वाल प्रोजेक्ट के ऊपर शनिवार से जमीनी स्तर पर काम शुरू हो गया। शुभारंभ गांव टीकली में केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव ने पौधारोपण कर किया। प्रोजेक्ट के तहत दिल्ली से लेकर गुजरात तक अरावली पहाड़ी के दोनों तरफ चार से पांच किलोमीटर तक पौधारोपण के ऊपर जोर दिया जाएगा।

इसके लिए पंचायतों से लेकर किसानों को जागरूक किया जाएगा ताकि प्रोजेक्ट पर तेजी से काम चले। प्रथम चरण में अरावली के अंतर्गत आने वाले हरियाणा के जिलों गुरुग्राम, फरीदाबाद, नूंह, रेवाड़ी और महेंद्रगढ़ में पौधारोपण पर जोर देने के साथ-साथ 75 जलाशय विकसित किए जाएंगे।

प्रधानमंत्री के नेतृत्व में आगे बढ़ रहा है देश: भूपेंद्र यादव

शुभारंभ समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय भूपेंद्र यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश तेजी से आगे बढ़ रहा है। पर्यावरण संरक्षण, आयुर्वेद को बढ़ावा, ग्रामीण भारत में संसाधनों में बढ़ोतरी के लिए गति शक्ति, किसानों को एफपीओ और महिलाओं को स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से सशक्त बनाने का कार्य किया जा रहा है। इसी कड़ी में अरावली ग्रीन वाल प्रोजेक्ट पर काम शुरू किया गया है। इसके ऊपर गुजरात तक काम किया जाएगा। इससे पर्यावरण बेहतर होगा।

उन्होंने कहा कि अरावली की सुरक्षा आवश्यक है। इसके लिए सभी को मिलजुलकर प्रयास करना होगा। अरावली पर्वत श्रृंखला राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित आस-पास के क्षेत्र को सांस देने के साथ-साथ रेगिस्तान को भी आगे बढ़ने से रोकती है। ऐसे में अरावली के संरक्षण को लेकर सामूहिक प्रयास में हम सभी को अपना योगदान करना चाहिए। अरावली पर्वत श्रृंखला में जंगल सफारी विकसित करने के ऊपर भी काम चल रहा है। इससे टूरिज्म को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने पर्यावरण संरक्षण के लिए सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने की अपील लोगों से की।

पौधारोपण पर दिया जोर

प्रदेश के पर्यावरण, वन एवं वन्य जीव मंत्री कंवरपाल ने पौधारोपण पर जोर देते हुए कहा कि जिंदगी के साथ और बाद तक पेड़ों का सदैव महत्व बना रहता है। ऐसे में जीवन के महत्वपूर्ण अवसरों पर पौधारोपण और बाद में उनकी देखभाल अवश्य करनी चाहिए। अरावली ग्रीन वाल प्रोजेक्ट की प्रशंसा करते हुए कहा कि इससे हरियाली को बढ़ावा मिलने के साथ ही शुद्ध हवा और भूजल का स्तर भी बढ़ेगा। समारोह में केंद्रीय मंत्री ने वनों के विकास को लेकर नेशनल वर्किंग प्लान का भी विमोचन किया।

इस अवसर पर सोहना के विधायक संजय सिंह, हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव (वन विभाग) विनीत गर्ग, केंद्र सरकार में वन महानिदेशक सीपी गोयल, प्रदेश के प्रधान मुख्य वन संरक्षक जगदीश चंद्र, जिला उपायुक्त निशांत कुमार यादव, मुख्य वन संरक्षक वासवी त्यागी, उप वन संरक्षक राजीव तेजयान, टीकली गांव की सरपंच पूजा देवी सहित कई अधिकारी उपस्थित थे।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.