गुरुग्राम, जागरण संवाददाता। प्रतिबंध के बावजूद भवन निर्माण करने वाले दो उल्लंघनकर्ताओं पर नगर निगम द्वारा 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। ये दोनों निर्माण डीएलएफ फेज-2 क्षेत्र में किए जा रहे थे। नगर निगम को सूचना मिली थी कि डीएलएफ फेज-2 क्षेत्र में प्लाट नंबर-एम 15/13 और जे-4/9 में भवन निर्माण का कार्य किया जा रहा है, जबकि पर्यावरण प्रदूषण (नियंत्रण एवं रोकथाम) प्राधिकरण द्वारा 14 नवंबर तक गुरुग्राम सहित पूरे एनसीआर क्षेत्र में भवन निर्माण गतिविधियों पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाया हुआ है।

20 हजार और 30 हजार का लगा जुर्माना

सूचना मिलते ही जूनियर इंजीनियर हरीकिशन मौके पर पहुंचे और प्लॉट नंबर-एम 15/13 के मालिक पर 20 हजार रुपये और प्लॉट नंबर-जे 4/9 के मालिक पर 30 हजार रुपये का जुर्माना लगाया।

शहर में लगातार बढ़ रहा प्रदूषण

बता दें कि शहर में वायु प्रदूषण लगातार बढ़ा हुआ है। बुधवार को मंगलवार के मुकाबले वायु प्रदूषण स्तर ज्यादा रहा। बुधवार को सुबह 9 बजे पीएम 2.5 का स्तर 448 माइक्रो ग्राम प्रति क्यूबिक मीटर था जो 11 बजे बढ़कर 450 दर्ज किया गया। यह स्तर स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। पीएम 2.5 का स्तर 50 से ज्यादा स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है।

बढ़ रही दमा मरीजों की संख्‍या

हवा अधिक जहरीली होने के कारण दमा मरीजों से लेकर अन्य मरीजों की संख्या बढ़ रही है। जिला अस्पताल की इमरजेंसी से लेकर ओपीडी तक मरीज पहुंच रहे हैं। इसमें मरीजों युवाओं की संख्या भी अच्छी खासी है। अगर शहर की आबोहवा ऐसी ही रही तो हर किसी को परेशानी होगी।

 दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस