जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: कड़ी सुरक्षा के साये में बृहस्पतिवार को सेक्टर-14 स्थित राजकीय कन्या महाविद्यालय में मतगणना कराई जाएगी। किसी भी स्तर पर गड़बड़ी न रहे, इसके लिए जहां लगभग एक हजार पुलिसकर्मी सुबह छह बजे से ही तैनात हो जाएंगे वहीं चार कंपनियां रिजर्व रखी जाएंगी ताकि किसी भी स्थिति से निबटा जा सके। लघु सचिवालय स्थित गुड़गांव लोकसभा क्षेत्र के रिटर्निंग ऑफिसर व गुरुग्राम के जिला उपायुक्त अमित खत्री के कार्यालय के आसपास भी सुरक्षा की व्यवस्था कड़ी कर दी गई है।

गुड़गांव लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गुड़गांव, बादशाहपुर, सोहना एवं पटौदी विधानसभा क्षेत्र की मतगणना सेक्टर-14 स्थित राजकीय कन्या महाविद्यालय में होगी। इनके लिए अलग-अलग मतगणना केंद्र बनाए गए हैं। किसी भी स्तर पर गड़बड़ी न हो इसके लिए गुड़गांव, बादशाहपुर, पटौदी एवं सोहना विधानसभा क्षेत्र की जिम्मेदारी क्रमश: पुलिस उपायुक्त (पश्चिमी) सुमेर सिंह यादव, पुलिस उपायुक्त (पूर्वी) सुलोचना गजराज, पुलिस उपायुक्त (मानेसर) राजेश कुमार एवं पुलिस उपायुक्त (दक्षिणी) हिमांशु गर्ग को सौंपी गई है। पुलिस उपायुक्त (पश्चिमी) लॉ एंड ऑर्डर जबकि पुलिस उपायुक्त (दक्षिणी) ट्रैफिक व्यवस्था भी संभालेंगे। लघु सचिवालय में सुरक्षा की जिम्मेदारी सहायक पुलिस आयुक्त मुकेश कुमार को सौंपी गई है। मतगणना संपन्न होने के बाद विजेता प्रत्याशी को प्रमाण पत्र लघु सचिवालय स्थित अपने कार्यालय में गुड़गांव लोकसभा क्षेत्र के रिटर्निंग ऑफिसर अमित खत्री प्रदान करेंगे। बुधवार को रिहर्सल के माध्यम से पुलिस अधिकारियों ने सुरक्षा व्यवस्था का जायजा भी लिया। सबसे अधिक स्ट्रांग रूम पर रखी जा रही नजर

ईवीएम की सुरक्षा को ध्यान में रखकर सबसे अधिक स्ट्रांग रूम की सुरक्षा पर जोर दिया जा रहा है। मतदान के दिन से ही तीन स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था है। स्ट्रांग रूमों के सबसे नजदीक बीएसएफ की सुरक्षा है। इसके बाद कुछ दूरी पर आइआरबी के जवानों की तैनाती है। सबसे बाहरी सुरक्षा स्थानीय पुलिस के पास है। मतगणना के दौरान सुरक्षा और अधिक मजबूत रहेगी। ट्रैफिक एडवायजरी भी की गई जारी

सेक्टर-14 स्थित राजकीय कन्या महाविद्यालय के आसपास ट्रैफिक का दबाव न बढ़े इसके लिए ट्रैफिक एडवाइजरी जारी की गई है। लोगों से अपील की गई है कि वे महावीर चौक से एमडीआइ चौक की तरफ एवं महाविद्यालय से 32 माइलस्टोन की तरफ जाने वाली सड़क का उपयोग न करें। इन सड़कों पर मतगणना कार्य में भूमिका निभाने वाले अधिकारियों एवं कर्मचारियों, प्रत्याशियों के एजेंटों से लेकर चुनाव से संबंधित अन्य अधिकारियों के वाहनों का दबाव रहेगा। इस वजह से वैकल्पिक मार्ग का उपयोग करना उचित रहेगा। जिस तरह मतदान शांतिपूर्ण व निष्पक्ष तरीके से संपन्न हुआ है, उसी तरह मतगणना भी शांतिपूर्ण व निष्पक्ष तरीके से संपन्न होगी। इसके लिए जिस स्तर पर सुरक्षा की व्यवस्था होनी चाहिए, उस स्तर की व्यवस्था की गई है। चार कंपनियां रिजर्व रखी गई हैं ताकि किसी भी स्थिति से निबटा जा सके।

-शशांक कुमार सावन, पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय), गुरुग्राम

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप