प्रियंका दुबे मेहता, गुरुग्राम

अब चूड़ियां नहीं, सुरक्षा ज्वेलरी पहनने का वक्त है। लगातार हो रही महिलाओं के खिलाफ घटनाओं ने एक बार फिर से सुरक्षा ज्वेलरी का चलन बढ़ा दिया है। सुरक्षा ज्वेलरी बड़े शहरों में सुरक्षा के लिहाज से काफी लोकप्रिय हो रही है। यह केवल सुरक्षा ही नहीं प्रदान नहीं कर रही है बल्कि ट्रेंड का पर्याय भी बन रही है। अब लोग घड़ियों, ब्रेसलेट और लॉकेट की जगह इस तरह की ज्वेलरी पहन रहे हैं जोकि सुरक्षा अलार्म की तरह काम करती है। सोशल मीडिया पर इस तरह की ज्वेलरी की जानकारी को लोग खूब शेयर कर रहे हैं। क्या है सुरक्षा ज्वेलरी

सुरक्षा ज्वेलरी में एक चिप फिट होता है। किसी भी दुर्घटना की स्थिति में यह चिप अलर्ट जारी करता है। इससे ज्वेलरी पहनने वाले की लोकेशन व एमरजेंसी अलर्ट की जानकारी मिलती है। पहले केवल रिस्ट बैंड से रूप में यह बाजार में उपलब्ध थी लेकिन अब हर तरह की ट्रेंडी ज्वेलरी में सुरक्षा फीचर्स डाले जा रहे हैं। फिटबिट से लेकर स्मार्ट ब्रेसलेट और अन्य तरह की ज्वेलरी लोगों खतरे की स्थिति में सुरक्षा देने में सहायक होती है। मोबाइल एप से भी होते हैं कनेक्ट

सुरक्षा ज्वेलरी में लगे सेफ्टी चिप को मोबाइल पर डाउनलोड किए गए एप से भी कनेक्ट किया जा सकता है। इसके बाद इसमें एक ऐसे नंबर रिजस्टर करने होते हैं जिनपर आपातकालीन स्थित में अलर्ट भेजा जा सके। इस तरह से किसी भी विपरीत स्थिति में इस ज्वेलरी के बटन को दबाया जाए तो उन नंबरों पर लोकेशन व अलर्ट चला जाता है जो नंबर रजिस्टर किए गए हैं। ऐसे में अपनों को तुरंत खतरे का आभास हो जाता है। इतना ही नहीं, अब मोबाइल से अलग ज्वेलरी में पूरे फीचर्स होते हैं जिसका बटन दबाने या उसे खींचने मात्र से लोकेशन और आपात स्थिति का अलार्म भेजा जा सकता है। ट्रेंडी से लेकर पारंपरिक ज्वेलरी में सुरक्षा चिप

पिछले कुछ समय से इस ज्वेलरी को लेकर इतनी लोकप्रियता मिली कि अपराधी भी उसकी पहचान कर लेते हैं। ऐसे में अब पारंपरिक ज्वेलरी के आकार में स्मार्ट सुरक्षा चिप फिट कर दी जाती है ताकि अपराधी को पता न चल सके और उसमें लगे छोटे पैनिक बटन को दबाकर व्यक्ति को मदद मिल सके। सुरक्षा ज्वेलरी युवतियों के बीच काफी लोकप्रिय हो रही है। इस तरह की ज्वेलरी आज के दौर की आवश्यकता के साथ साथ ट्रेंड भी बन रही है। अब इस तरह की ज्वेलरी को मल्टी परपज बनाया जा रहा है जो कि सुरक्षा के साथ साथ स्वास्थ्य मॉनिटरिग और मार्गदर्शन भी करते हैं।

- सौमिल, आइटी एक्सपर्ट सुरक्षा यंत्र ज्वेलरी के रूप में आ रहे हैं। इसके अलावा आने वाले समय में इस तरह के उपकरणों को और एडवांस किया जा रहा है जो कि जेस्चर कंट्रोल पैटर्न पर चेलगा। इस क्षेत्र में आगे बहुत काम चल रहा है क्योंकि इसकी मांग बढ़ रही है ऐसे में इसकी फीचर्स को भी एडवांस करने की जरूरत महसूस की जा रही है।

- मुनीष धीमान, आइटी एक्सपर्ट

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस