जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: अब कोई भी कोरोना जांच कराने सेक्टर दस अस्पताल जाएगा, तो उसे अस्पताल की इमारत में अंदर जाने की जरूरत नहीं होगी। कोरोना जांच के वास्ते मरीजों के लिए इमारत के बाहर अस्पताल के प्रांगण में प्रबंध कर दिया गया है। बुधवार को अस्पताल की इमारत के पिछले हिस्से में छोटे गेट पर कोरोना की जांच कराने वालों के लिए प्रबंध किए गए हैं।

सिविल सर्जन (सीएमओ) डॉ. विरेंद्र यादव ने कहा कि हमारी योजना थी कि कोरोना की जांच कराने वाले लोग अस्पताल इमारत के अंदर नहीं आने चाहिए। इससे अन्य मरीजों को खतरा नहीं रहेगा। अस्पताल में गायनी वार्ड और इमरजेंसी वार्ड की सेवाएं चल रही हैं और ऐसे लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाना बहुत जरूरी है। इमारत के अंदर लगेगी ओपीडी:

सेक्टर दस जिला अस्पताल में कोरोना महामारी को देखते हुए अप्रैल माह में अस्पताल इमारत के बाहर प्रांगण में पेड़ों के नीचे ओपीडी लगानी शुरू की गई थी। अब सभी ओपीडी अस्पताल इमारत के अंदर लगेंगी। प्रधान चिकित्सा अधिकारी डॉ. दीपा जाखड़ ने कहा कि बारिश का मौसम है इस लिए ओपीडी इमारत के अंदर दोबारा लगाना शुरू कर दी है। वैसे भी कोरोना के डर के कारण ओपीडी बाहर लगाना शुरू की गई थी। अब कोरोना मरीजों की जांच इमारत के बाहर होगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021