अनिल भारद्वाज, गुरुग्राम

टोक्यो ओलंपिक 2020 के हाकी क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारत हाकी पुरुष टीम ने रविवार को ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए अपने चिर प्रतिद्वंदी ब्रिटेन को 3-1 से कांटे की टक्कर में शिकस्त देकर सेमिफाइनल में अपना स्थान पक्का कर लिया है। 40 साल बाद भारत ने ओलंपिक में यह कारनामा दोहराया है। इससे साइबर सिटी के हाकी प्रेमियों में उत्साह की लहर दौड़ गई है। स्थानीय से लेकर दिग्गज हाकी खिलाड़ियों का कहना है कि इस बार पूरी उम्मीद है कि देश की झोली में स्वर्ण पदक आएगा।

टीम इंडिया के ओलिपिक के सेमी फाइनल में पहुंचने में जिला खेल विभाग के नेहरू स्टेडियम में हाकी खिलाड़ियों ने तिरंगा लहरा कर इस जीत का जश्न मनाया। कहा कि यह जीत वास्तव में तन-मन को प्रसन्नता से भरने वाली है। अब फाइनल दूर नहीं दिखता है। खिलाड़ियों ने कहा कि जिस प्रकार से हाकी टीम लगातार प्रदर्शन कर रही है उससे स्वर्णिम सफलता दूर नहीं दिख रही है। टीम की इस जीत पर गुरुग्राम के नेहरू स्टेडियम में हाकी खिलाड़ियों ने खुशी मनाई। पूर्व हाकी खिलाड़ी फूल कुमार ने कहा कि भारतीय टीम लय में है और अब सेमीफाइनल में जीत का लक्ष्य बनाना होगा। हाकी प्रशिक्षक अशोक कुमार ने कहा कि भारतीय टीम इतिहास रचने के करीब है। पूर्व हाकी खिलाड़ी विरेंद्र यादव का कहना है कि देश के 130 करोड़ लोगों की भावनाएं हाकी टीम के साथ हैं और टीम इस बार टोक्यो में तिरंगा फहराएगी।

Edited By: Jagran