जागरण संवाददाता, गुरुग्राम :

शहर के लोग गणपति बप्पा के स्वागत के लिए तैयार हैं। बड़े पंडाल और ज्यादा भागीदारी करीब आधा दर्जन जगहों पर होगी। लोग अपने घरों और सोसायटी में भी गणपति की प्रतिमा स्थापित कर रहे हैं। मुख्य आयोजन सेक्टर 27 स्थित सामुदायिक भवन में होगा। इसके अलावा सेक्टर चार स्थित वैश्य धर्मशाला, सेक्टर 14, सेक्टर चार स्थित श्री कृष्ण मंदिर, सेक्टर नौ ए स्थित गौरी शंकर मंदिर और सेक्टर 43 स्थित हनुमान मंदिर परिसर में भी गणेश चतुर्थी से गणपति पूजा और सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन होंगे।

सार्वजनिक गणेशोत्सव समिति के अध्यक्ष मनोज खरड़ ने बताया कि पंडाल में पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया जाएगा। पंडाल की सजावट और गणपति बप्पा की शाडू की मिट्टी से बनी प्रतिमा महाराष्ट्र के अहमद नगर से मंगाई गई है। पंडाल में लोगों को पौधरोपण करने, पॉलीथिन का प्रयोग बंद करने और स्वच्छ भारत का संदेश दिया जाएगा। कई एनजीओ लोगों को जागरूक करने के लिए कार्यक्रम भी करेंगे। इस दौरान मराठी लोक संगीत, लोक नृत्य और थियेटर की परंपरा से यहां के लोग रूबरू होंगे।

सेक्टर चार वैश्य धर्मशाला में आयोजन

पुराने गुरुग्राम में सह्याद्री सार्वजनिक गणेशोत्सव समिति की ओर कार्यक्रम होगा। संगठन के अध्यक्ष चंद्रकांत शिरसाठ ने बताया कि यहां 13 से 17 सितंबर तक रोजाना सुबह 7.45 और शाम 7.45 बजे अथर्वशीर्ष का पाठ और गणेश आरती होगी।

रेल विहार सोसायटी में मनाया जाएगा गणेशोत्सव

सेक्टर 56 स्थित रेल विहार सोसायटी में दो दिवसीय गणेश महोत्सव मनाया जाएगा। 13 सितंबर को गणेश प्रतिमा की स्थापना, सत्य नारायण पूजा, बच्चों के लिए पें¨टग, नृत्य संगीत के कार्यक्रम होंगे। 14 सितंबर को आरती नवग्रह पूजा और भंडारे का आयोजन किया जाएगा। यहां इसके बाद शोभा यात्रा भी आयोजित की जाएगी।

सार्वजनिक गणेशोत्सव पूजा के सेक्टर 27 सामुदायिक भवन के कार्यक्रम

13 सितंबर - सुबह सात बजे गणपति स्थापना, शाम 7.30 बजे अथर्वशीर्ष का पाठ, पारंपरिक वेशभूषा में महाआरती

14 सितंबर - शाम आठ बजे मराठी नाटक बायको माझी लय भारी मुंबइ एक थियेटर द्वारा

15 सितंबर - गुरुग्राम के बच्चों के बाल गोपाल कार्यक्रम, शाम आठ बजे

16 सितंबर - सुबह चित्रकला, रंगोली और पाक कला प्रतियोगिता। शाम में ¨हदी हास्य कवि सम्मेलन,

17 सितंबर - शाम आठ बजे मराठी एकपात्री कार्यक्रम - अस्सल माणसं इरसाल नमुने प्रभाकर निलेगांवकर की प्रस्तुति

18 सितंबर - शाम आठ महाराष्ट्राची लोकधारा मराठी लोक संगीत, लोक नृत्य का कार्यक्रम

19 सितंबर - शाम आठ बजे ¨हदी वाद्यवृंदा कार्यक्रम मयूरपंख इवेंट्स द्वारा

23 सितंबर - नौ बजे हरि कीर्तन नांदेड से विक्रम बुआ नांदेड़कर, गणेश मूर्ति की शोभा यात्रा विसर्जन, भंडारा सेक्टर चार स्थित वैश्य समाज धर्मशाला में सह्याद्री सार्वजनिक गणेशोत्सव

13 सितंबर -शाम छह बजे-गणेश स्थापना, 8.15 बजे- नृत्य और गीत के कार्यक्रम, 9.30 बजे महा प्रसाद

14 सितंबर - 8.15 नृत्य और संगीत के कार्यक्रम, 9.30 बजे महा प्रसाद

15 सितंबर - दोपहर एक बजे - सत्यनारायण महापूजा, रात 9 बजे महा प्रसाद

16 सितंबर -शाम आठ नृत्य और संगीत के कार्यक्रम, 9.30 बजे महा प्रसाद

17 सितंबर - शाम आठ बजे सांस्कृतिक कार्यक्रम

23 सितंबर -सुबह नौ बजे गणेश झांकी, चार बजे विसर्जन

Posted By: Jagran