Move to Jagran APP

एक दिन के लिए हुआ था शटडाउन, तीन दिन बाद हुई वाटर सप्लाई बहाल

सड़क निर्माण और पाइप लाइन शिफ्टिंग के चलते प्लांट से बंद की गई पेयजल आपूर्ति तीन दिन बाद बृहस्पतिवार को बहाल हो पाई।

By JagranEdited By: Published: Thu, 25 Aug 2022 09:17 PM (IST)Updated: Thu, 25 Aug 2022 09:17 PM (IST)
एक दिन के लिए हुआ था शटडाउन, तीन दिन बाद हुई वाटर सप्लाई बहाल

एक दिन के लिए हुआ था शटडाउन, तीन दिन बाद हुई वाटर सप्लाई बहाल

जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: उमंग भारद्वाज चौक से एनपीआर तक सड़क निर्माण और पाइप लाइन शिफ्टिंग के चलते बसई वाटर ट्रीटमेंट प्लांट से बंद की गई पेयजल आपूर्ति तीन दिन बाद बृहस्पतिवार को बहाल हो पाई। लाइन शिफ्टिंग के बाद ठेकेदार के कर्मचारी इसका कनेक्शन ठीक तरह से जोड़ नहीं पाए और पेयजल आपूर्ति चालू करते ही लीकेज हो गया। कनेक्शन जोड़ने में दो दिन और लग गए। ऐसे में तीन दिन तक तक बसई वाटर ट्रीटमेंट प्लांट से पेयजल आपूर्ति प्रभावित हुई और पुराने शहर के कई इलाकों में पेयजल संकट हो गया। बता दें कि लाइन शिफ्टिंग को लेकर 22 अगस्त सुबह आठ बजे से 23 अगस्त सुबह आठ बजे तक 24 घंटे के लिए शहर में पेयजल आपूर्ति बंद की गई थी। गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) ने पानी की सप्लाई बंद करने को लेकर एडवाइजरी भी जारी की थी। रात को भी काम में जुटे रहे कर्मचारी जीएमडीए के एक्सईएन अभिनव वर्मा ने बताया कि लाइन को दुरुस्त करने के लिए एक अलग टीम लगाई गई। दूसरी टीम ने बृहस्पतिवार सुबह लाइन को जोड़ दिया। कनेक्शन को मजबूत करने के लिए कंक्रीट भी डाली गई, जिससे लीकेज आदि की समस्या नहीं होगी। कार्य निरीक्षण के लिए रात को मौके पर जीएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुधीर राजपाल भी पहुंचे। उन्होंने काम को जल्द पूरा कर पेयजल आपूर्ति चालू करने के निर्देश दिए। 11 सेक्टरों और गांवों में रहा पेयजल संकट बसई वाटर ट्रीटमेंट प्लांट से पेयजल आपूर्ति बंद होने के बाद सेक्टर चार, पांच, नौ, 12, 14, 17, 18, 21, 22, 23, 23ए में पानी की आपूर्ति नहीं हुई। इसके अलावा गुरुग्राम गांव, दयांनद कालोनी, राजीव नगर, पालम विहार, शीतला कालोनी, धर्म कालोनी, अशोक विहार फेज-एक और दो, चौमा गांव, गांव डूडाहेडा, कार्टरपुरी, मोलाहेड़ा, मारुति उद्योग और एचएसआइआइडीसी और आसपास के क्षेत्रों में भी पेयजल आपूर्ति बाधित होने से लोगों को परेशानी हुई। जीएमडीए और निगम ने भेजे टैंकर जीएमडीए के एक्सईएन अभिनव वर्मा के मुताबिक पानी की आपूर्ति बंद होते ही काफी शिकायतें मिलने लगी। इसके बाद जीएमडीए और नगर निगम की ओर से प्रभावित क्षेत्रों में पानी के टैंकर से पेयजल आपूर्ति की गई तथा लाइन का कनेक्शन जोड़ने के बाद घरों में अतिरिक्त पेयजल आपूर्ति की गई ताकि लोगों को परेशानी न हो।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.