जासं, गुरुग्राम: कार चोरी के मामले में एक अन्य आरोपित क्राइम ब्रांच की सेक्टर-17 टीम ने उत्तर प्रदेश के मेरठ में खैर नगर से गिरफ्तार किया है। उसकी पहचान खैर नगर में ही रहने वाले अजीज के रूप में की गई। वर्ष 2019 में 15 सितंबर को भीम नगर निवासी पीयूष पाहूजा की आइ-20 कार उनके घर के सामने से चोरी हो गई थी। मामले में जब छानबीन शुरू की गई तो पता चला कि फर्जी नंबर प्लेट, फर्जी इंजन नंबर और फर्जी चेसिस नंबर लगाकर कार का इस्तेमाल किया जा रहा है। मामले में इससे पहले मुजफ्फरनगर निवासी नदीम, नफीस और राजेश कक्कड़ को गिरफ्तार किया गया था।

इलाज के नाम पर लाखों की ठगी

जासं, गुरुग्राम: इलाज के नाम पर लाखों रुपये की ठगी का मामला सामने आया है। न्यू कालोनी निवासी एक महिला के फेसबुक पर माइकल एलेक्स नामक डाक्टर की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई थी। उन्होंने स्वीकार कर लिया। धीरे-धीरे चैट के माध्यम से बातचीत शुरू हो गई। डाक्टर ने स्वयं को स्काटलैंड निवासी स्त्री रोग विशेषज्ञ बताया। इसके बाद महिला ने अपनी बीमारी की पूरी हिस्ट्री बताई। डाक्टर ने दवाइयां और महिला के बेटे के लिए गिफ्ट भेजने की बात की। कुछ दिन बाद एक महिला का फोन आया। उसने कहा कि वह मुंबई कस्टम कार्यालय से बोल रही है। फिर पार्सल की कस्टम ड्यूटी भरने के नाम पर कुछ पैसे जमा कराए गए। बाद में खाते से 24 लाख रुपये से अधिक राशि निकल गई। साइबर क्राइम थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

Edited By: Jagran