जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: बगल से गुजरती एसयूवी (ब्रेजा) से स्कूल बस हल्की सी छू गई तो एसयूवी में सवार बुजुर्ग ने आपा खो दिया। बुजुर्ग ने ना सिर्फ बस चालक व बस सहायक के साथ मारपीट की बल्कि स्कूल बस में दनादन पत्थर चला फ्रंट व साइड के शीशे तोड़ दिए। सोमवार को हुई इस घटना के समय बस में पंद्रह बच्चे सवार थे। शुक्र है कि पत्थर बच्चों को नहीं लगा। बुजुर्ग की हरकत से बच्चे इतने डर गए कि वे अगले दिन स्कूल जाने को नहीं तैयार हुए। सेक्टर 15 पार्ट वन में हुई पूरी घटना की बस में मौजूद टीचर ने अपने मोबाइल के कैमरे में रिकॉर्डिंग कर ली थी। सिविल लाइंस थाना पुलिस ने मंगलवार को कार नंबर के आधार पर अज्ञात बुजुर्ग के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर ली है।

सोमवार दोपहर करीब एक बजे साउथ सिटी स्थित केआर मंगलम स्कूल के रूट नंबर 21 की बस करीब 15 बच्चों को घर छोड़ने के लिए निकली थी। बस ने सेक्टर-15 पार्ट 1 में रेस्ट हाउस पार किया ही था कि दूसरी ओर से मारुति ब्रेजा नंबर एचआर 27जी3895 गुजरी। बस से गाड़ी साइड से थोड़ा छू गई तो वह रुक गई। गाड़ी में पीछे बैठा बुजुर्ग शख्स उतरकर आया और सड़क किनारे से पत्थर उठाकर बस के आगे वाले शीशे में दो-तीन बार मारा। इस हरकत पर बस में मौजूद अध्यापिका रीटा ठाकुर नीचे उतरीं और उन्होंने बुजुर्ग को समझाने का प्रयास किया तो उन्हें भी बुजुर्ग गालियां देने लगा, जिस पर रीटा बस के अंदर गईं और बच्चों को पीछे सुरक्षित कर वीडियो बनाने लगीं।

आगे वाला शीशा तोड़ने के बाद बुजुर्ग ड्राइवर की ओर गया और उसकी खिड़की का शीशा तोड़ दिया। इस दौरान बस सहायक ¨रकू ने बुजुर्ग को समझाने की कोशिश की तो उसे बुजुर्ग ने धक्का देकर थप्पड़ जड़ दिया और चालक सुरेन मंडल के साथ भी गाली-गलौज की। करीब 65 वर्षीय व्यक्ति की द्वारा सड़क पर की गई दबंगई से कुछ देर के लिए यातायात भी थम गया। लोगों ने आपत्ति की तो आरोपित अपनी ब्रेजा में बैठकर चला गया। इसके बाद बस ने भी बच्चों को घर छोड़ा। बस में दो बच्चे दसवीं कक्षा के थे। बाकी पहली व दूसरी कक्षा के थे। स्कूल ¨प्रसिपल को मामले की शिकायत टीचर व ड्राइवर ने दी, जिसके बाद ¨प्रसिपल प्रिया अरोड़ा ने मंगलवार को सिविल लाइंस थाना पुलिस को मामले की शिकायत दी। अज्ञात बुजुर्ग के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर ली गई है। कार नंबर के आधार पर उनकी पहचान के प्रयास चल रहे हैं। ब्रेजा का नंबर नूंह जिले से जारी हुआ है। वहां पुलिस टीम शाम को भेजी गई है। जल्द ही पता निकाल बुजुर्ग के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

-इंस्पेक्टर चंद्रप्रकाश, थाना प्रभारी सिविल लाइन

Posted By: Jagran