जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

ड्रग एवं फूड सेफ्टी विभाग की तरफ से लघु सचिवालय में होटल व ढाबा मालिकों को ट्रेनिग दी गई। विभाग की यह दूसरी ट्रेनिग है। इससे पहले इसी महीने में 3 दिसंबर को करीब 40 लोगों को ट्रेनिग दी गई थी। ट्रेनिग में एनजीओ के सदस्यों ने दुकानदारों को खाद्य पदार्थ बनाने और उसकी संभाल रखने बारे बताया गया।

ट्रेनिग का शुभारंभ खाद्य सुरक्षा अधिकारी सुरेंद्र पूनिया ने किया। इस दौरान आपरेटर अमन कुमार समेत दुकानदार मौजूद थे। एनजीओ वीआर द व‌र्ल्ड प्रोफेशनल सर्विस की ट्रेनर प्रिया ने दुकानदारों को ट्रेनिग दी। दुकानदारों को ट्रेनिग देते हुए प्रिया ने कहा कि खाद्य पदार्थ बेचने वाले दुकानदार और इसके निर्माता एफएसएसएआइ की गाइडलाइन का ध्यान जरूर रखें। इसे खाने वाले की सेहत का ध्यान रखना जरूरी है और इसकी जिम्मेदारी भी दुकानदार से और इसके निर्माता से तय होती है। खाद्य पदार्थ को तैयार करते समय परिसर को साफ और कीट मुक्त रखें। खाद्य सुरक्षा अधिकारी सुरेंद्र पूनिया ने बताया कि हर किसी को स्वच्छ खानपान मिले इसकी जिम्मेदारी हमारी है। कई बार बाहर कुछ दिखता है लेकिन अंदर कुछ होता है। इसलिए भोजन को बनाने की सामग्री एफएसएसएआइ से मान्यता प्राप्त हो। भोजन को तैयार करते समय पीने योग्य पानी का उपयोग करें। भोजन बनाने में प्रयोग होने वाले बर्तनों के बारे में भी जानकारी होना जरूरी है। सुरेंद्र पूनिया ने बताया कि पहले चरण में हुई ट्रेनिग के दौरान 40 लोगों को प्रमाण पत्र भी बांटे गए। उन्होंने कहा कि विभाग की यह ट्रेनिग आगे भी जारी रहेगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस