फतेहाबाद, जागरण संवाददाता। फतेहाबाद में शनिवार सुबह लैबर शेड के पास मजदूरों ने एक डिब्बा पड़ा हुआ देखा। जब इसकी जांच की तो एक कांच का टुकड़ा मिला जो चमक रहा था। इस दौरान वहां पर खड़े मजदूरों ने बम होने की संभावना जताई। जिसकी सूचना पुलिस को दी। इस सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने जब जांच की तो यह कांच काटने वाला लेजर का टुकड़ा था। बम मिलने की अफवाहे पूरे शहर में फेल गई थी। लेकिन बाद मे हकीकत पता चलने के बाद मामला शांत हुआ। वहीं पुलिस ने कहा कि इस तरह की अफवाहों पर ध्यान न दे।

शनिवार सुबह की घटना, पुलिस ने जांच की तो कुछ नहीं मिला

जानकारी के अनुसार पुराना बस स्टैंड के पास लैबर शेड बना हुआ है। यहां पर मजदूर खड़े होते है। सुबह कुछ मजदूर आए तो शेड के पास एक डिब्बा पड़ा हुआ देखा। जब कुछ मजदूरों ने डिब्बे को हाथ लगाया तो उसके अंदर कांच का एक बड़ा टूकड़ा मिला। वहीं एक घड़ी भी बनी हुई देखी। जिसके बाद मजदूरों ने समझ लिया कि यह बम हो सकता है। यह सूचना पूरे शहर में फेल गई। इस मामले की सूचना पुलिस को दी गई। 

पुलिस ने गंभीरता से की जांच

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस के साथ बम दस्ता भी मौके पर आ गया। पुलिस ने वहां पर खड़े मजदूरों को एक साइड कर दिया। जब इस डिब्बे की जांच की तो कांच काटने वाला लेजर का टुकड़ा था। शीशा काटने के लिए लेजर होता है जिससे वह आसानी से कट जाता है। ऐसे में यह टूट गया था। ऐसे में किसी ने इस यहां पर फेंक दिया। ऐसे में जो बम मिलने की सूचना थी वो केवल अफवाह थी। ऐसे में पुलिस कर्मचारी भी परेशान हुए। 

एक पैकेट में मिला था कांच काटने वाले लेचर का टुकड़ा 

किसी ने अफवाहे फेला दी थी। जिसके बाद पुलिस पहुंची तो वहां पर कांच का टुकड़ा मिला जो शीशा काटने में प्रयोग होता। 

---यादविंद्र सिंह शहर थाना प्रभारी फतेहाबाद।

Edited By: Naveen Dalal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट