जागरण संवाददता, फतेहाबाद : बागवानी विभाग अब किसानों को जल संरक्षण के लिए तालाब बनाने पर भी अनुदान देगा। यह अनुदान सिर्फ बागवानी करने वाले किसान को ही मिलेगा। इसके लिए किसान के पास ढाई एकड़ से अधिक जमीन होने चाहिए। बागवानी विभाग के अधिकारियों का कहना है कि योजना पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दी जा रही है। ऐसे में जो किसान पहले आवेदन करेगा, उसे प्राथमिकता के आधार पर लाभ दिया जाएगा।

दरअसल, जिले का सब डिविजन टोहाना का क्षेत्र पूरी तरह डार्क जोन घोषित हो चुका है, वहीं रतिया के साथ फतेहाबाद का भी कुछ क्षेत्र भी डार्क जोन की तरफ बढ़ रहा है। आगमी कुछ वर्षो में इसी तरह भूजल का दोहन हेता रहा है परेशानी अधिक बढ़ जाएगी। ऐसी को देखते हुए अब बागवानी विभाग किसानों को तालाब बनाने पर अनुदान देगा। इससे जल संरक्षण में मदद मिलेगी।

इससे पहले बागवानी विभाग किसानों को पानी के पानी के टैंक बनाने पर अनुदान देता था। अब पानी के टैंक के साथ जल संरक्षण के लिए तालाब बनाने पर भी अनुदान दिया जाएगा।

------------------------

एक किसान को 7 लाख रुपये तक मिलेगा अनुदान

बागवानी विभाग के अधिकारियों का कहना है कि एक किसान को ढाई एकड़ से लेकर 20 एकड़ जमीन के लिए तालाब बनाने पर अनुदान मिलेगा। यह अनुदान अधिकतम 7 लाख रुपये एक किसान को मिलेंगे। इससे किसान अपने लिए आसानी से तालाब बना सकता है। तालाब में बारिश का जल संरक्षण करने में आसानी होती है। बागवानी करने वाले किसान के लिए सरकार की यह योजना फायदेमंद रहेगी।

------------

बागवानी करने वाले किसान अपने खेत में तालाब बनाने के लिए अनुदान ले सकते है। सरकार की अब योजना के अनुसार जो किसान तालाब बनाना चाहता है। उसे अनुदान दिया जाएगा। किसान के पास कम से कम ढाई एकड़ जमीन होनी जरूरी है। तभी वह लाभ ले सकता है।

- डा. कुलदीप श्योराण, जिला उद्यान अधिकारी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस