जागरण संवाददाता, फतेहाबाद

तीन दिन पूर्व ही मौसम विभाग ने मौसम परिवर्तन की संभावना जताई थी। हालांकि हलकी बूंदाबांदी हुई थी लेकिन वो नाकाफी थी। मौसम बदलने के कारण तापमान में कुछ गिरावट आई है। जो तापमान 46 डिग्री के पास था वो अब 44 डिग्री पर पहुंच गया है। वहीं न्यूनतम तापमान में 2 डिग्री सेल्सियस की कमी आई है। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 44 डिग्री व न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। मौसम विभाग ने 11 व 12 जून को फिर से तापमान में परिवर्तन होने की उम्मीद जताई है। अगर इस इन दिनों बरसात नहीं हुई तो नरमे की फसल खराब हो जाएगी।

इन दिनों में लोगों को दिन के अलावा रात को भी सुकून नहीं मिल रहा है। रात का तापमान भी 30 डिग्री के आसपास है। इस कारण गर्मी का प्रकोप भी अधिक है। दिन के समय तापमान बढ़ने के कारण बाजार भी सुनसान हो जाते है। जिससे दुकानदारों का काम भी प्रभावित हो रहा है।

------------------

ये कहना है किसानों का

किसानों की माने तो अगर दस दिनों के अंदर बारिश नहीं हुई तो नरमे की फसल खराब हो सकती। किसान सुरजीत सिंह, विनोद भादू, आत्माराम, सुरेश ने बताया कि अब नरमे की फसल झुलसने लग गई है। अगर जल्द ही बारिश नहीं हुई तो पानी लगाना पड़ेगा। पानी इतना है नहीं कि सारी फसल पक सके। इसलिए अब जितनी जल्दी हो सके बारिश हो जाये वरना नरमे की फसल चौपट होने की कगार पर पहुंच सकती है।

---------------------

आने वाले कुछ दिनों में बरसात की संभावना बन रही है। जिसे हम प्री मानसून भी कह सकते है। 11 व 12 जून को मौसम बदलेगा और अच्छी बरसात होने की भी उम्मीद है।

डा. बलवंत सहारण

उपकृषि निदेशक फतेहाबाद।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप