जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

पूरे देश में स्वच्छ सर्वेक्षण शुरू हुए 15 दिन बीत गए है। ऐसे में अब कभी भी टीम पहुंच सकती है। लेकिन फतेहाबाद जिले के शहरों की हालत ऐसी है कि इस बार भी रैंकिग में सुधार की उम्मीद कम है। फतेहाबाद के बाद जिले में टोहाना दूसरी नगरपालिका है। लेकिन यहां की स्थित तो बिल्कुल उलट है। नगरपालिकाओं से भी यह शहर पीछे चल रहा है। यहीं कारण है कि शुक्रवार को स्वच्छ भारत मिशन के इंचार्ज ने पूरे शहर का निरीक्षण किया और वहां के अधिकारियों के साथ बैठक कर एक प्लान तैयार किया। तीन चार दिनों में शहर को चकाचक बनाने के लिए अधिकारियों ने दावा भी किया है। लेकिन अब देखना होगा कि इस निरीक्षण के बाद कितने अधिकारी सचेत होते है।

प्रत्येक नगरपरिषद व नगरपालिका में फीडबैक देने का काम चल रहा है। सक्षम युवा शहरों में जाकर स्वच्छ सर्वेक्षण का फीडबैक देने की बात कर रहे है। लेकिन टोहाना शहर के लोग सबसे पीछे चल रहे है। चार शहरों में से टोहाना तीसरे नंबर पर है। ऐसे में हम कैसे उम्मीद कर सकते है इस बार पिछले साल का रिकॉर्ड तोड़ देंगे।

---------------------------------------

बैठक में यह हुआ तय

शुक्रवार को फतेहाबाद से स्वच्छ भारत मिशन के इंचार्ज कुमार सौरभ टोहाना पहुंचे। उन्होंने स्वच्छ सर्वेक्षण में टोहाना की हालत पतली होने पर विचार विमर्श किया। इस अवसर पर कार्यकारी अभियंता सतीश कुमार, ईओ डा. एसके चौहान व एसआइ अजैब सिंह सिंह मौजूद थे। कुमार सौरभ ने कहा कि टोहाना के लोग फीडबैक नहीं दे रहे है। ऐसे में अगर टीम आ जाती है तो इसका नुकसान होगा। वहीं सफाई से संबंधित अधिक शिकायतें है। कार्यकारी अभियंता ने कहा कि योजना बना ली गई है। बैठक के बाद अधिकारियों ने भूना रोड पर बने स्लाटर हाउस का निरीक्षण किया। यहां पर अब अलग अलग कूड़ा डाला जाएगा। इसकी सफाई का कार्य भी जल्द शुरू कर दिया जाएगा।

----------------------------------

अब इस पर होगा काम

-शहर में डोर-टू-डोर कूड़ा उठेगा।

-सुबह व शाम को होगी सफाई।

-रात के समय होगी सफाई

-प्रत्येक वार्ड में एक मत से लगाए जाएंगे कर्मचारी।

-टाटा एस में गीला व सूखा कूड़ा डालने की होगी व्यवस्था।

-स्लाटर हाउस में बनाई जाएगी कूड़े से खाद

-स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए किया जाएगा जागरूक।

--------------------------------------------

फीडबैक कम मिला तो निकाली जागरूकता रैली

टोहाना शहरवासी फीडबैक नहीं दे रहे थे। इस कारण अधिकारियों ने दोपहर को शहर में बच्चों द्वारा रैली भी निकलवाई। शहरवासियों को इसके बारे में जानकारी दी गई। एसएस पब्लिक स्कूल के बच्चों ने यह रैली निकाली। बच्चों ने कहा कि अगर हमारा शहर साफ सुथरा है तो इसे अंक दे। अगर सफाई नहीं हो रही तो भी अपना फीडबैक दे ताकि हमारा शहर रैंकिग में तो बना रहे।

--------------------------------------

स्वच्छ सर्वेक्षण में इस तरह मिलते है अंक

कुल अंक : 6000

शहरवासियों से फीडबैक : 1500

कागजात की जांच : 1500

प्रत्यक्ष अवलोकन : 1500

सेवा स्तर की प्रगति : 1500

--------------------------------------

पिछले दो सालों की रैंकिग पर एक नजर

शहर 2019 रैंकिग 2018 रैंकिग

फतेहाबाद : 177 191

भूना 399 172

टोहाना 329 289

रतिया 984 572

---------------------------------------------------------

टोहाना शहर में संसाधन व कर्मचारी

संसाधन अब इसकी जरूरत और

रिक्शा 20 40

हाथ रेहड़ी 40 30

कर्मचारी 102 70

ट्रैक्टर ट्राली 2 4

टाटा एस 6 8

--------------------------------------------------

कितने शहरवासियों ने दिया है फीडबैक

शहर फीडबैक

फतेहाबाद 3328

भूना 465

रतिया 150

टोहाना 341

--------------------------------------------

मैंने खुद टोहाना का निरीक्षण किया है। वहां के अधिकारियों के साथ बैठक की है। शहर में आज रैली भी निकलवाई गई है। इसके अलावा स्लाटर हाउस में गीला व सूखा कूड़ा अलग होगा। रात को सफाई करने की बात अधिकारियों ने कही है। इसके अलावा सक्षम युवाओं को कहा गया है कि वे लोगों को जागरूक करे।

कुमार सौरभ

इंचार्ज स्वच्छ भारत मिशन फतेहाबाद।

--------------------------------------

अगले तीन चार दिनों के अंदर शहर में जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इसके अलावा डोर-टू-डोर कूड़ा उठाने के लिए योजना बनाई जा रही है। वहीं गीला व सूखा कूड़ा भी अलग किया जाएगा। स्कूल के बच्चे रैली निकाल रहे है ताकि लोग जागरूक हो।

सतीश कुमार

कार्यकारी अभियंता नगरपरिषद फतेहाबाद।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस