जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

शहर में कीड़े वाले मैदा से सामग्री बनाकर बेची जा रही है, जो कि स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हैं। इसका खुलासा स्वास्थ्य विभाग द्वारा लिए गए सैंपल की जांच रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार लैब में किए गए टेस्ट में मैदा में कीड़े पाए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग अब संबंधित दुकान को नोटिस जारी करेगा। पिछले दिनों स्वास्थ्य विभाग द्वारा ली गई रिपोर्ट में फतेहाबाद में मैदा, टोहाना मे घी तथा गांव भिरड़ाना में दूध का सैंपल फेल पाया गया है।

फूड सेफ्टी आफिसर की तरफ से पिछले दिनों सैंपल लिए गए थे। इन्हें जांच के लिए चंडीगढ़ में लैब में भेजा गया था। जांच के बाद चंडीगढ़ से रिपोर्ट आई है। जो कि चौकाने वाली है। रतिया चुंगी पर कंचन नमकीन भंडार से लिया गया मैदा का सैंपल अनसेफ आया है। मैदा में कीड़े पाए गए हैं। इस मैदा से खाद्य सामग्री तैयार की जाती थी। इसके अलावा भिरड़ाना में डेयरी से लिया गया दूध का सैंपल भी फेल पाया गया। दूध का सैंपल सब स्टैंडर्ड आया है। इसके अलावा टोहाना में डेयरी से लिया गया घी का सैंपल भी सब स्टैंडर्ड व मिस ब्रांड पाया गया है।

--------

चिटफंड कंपनी वीडीएसटी के सभी सैंपल फेल

स्वास्थ्य विभाग द्वारा चिटफंड कंपनी वीडीएसटी के सैंपल लिए थे। रिपोर्ट में सभी सैंपल फेल पाए गए हैं। रिपोर्ट के अनुसार सैंपल मिस ब्रांड पाए गए हैं। विभाग ने यहां से हल्दी, मिर्च, जीरा, धनिया के सैंपल लिए थे। लैब से आई रिपोर्ट के अनुसार सभी सैंपल मिस ब्रांड पाए गए हैं। विभाग कंपनी के खिलाफ एडीसी कोर्ट में मामला डालेगा।

---------

अगस्त व सितंबर माह में खाद्य पदार्थों के 44 सैंपल लिए जा चुके हैं। पिछले दिनों लिए गए सैंपल की रिपोर्ट के अनुसार मैदा का सैंपल मिस ब्रांड पाया गया है। इसमें कीड़े मिले हैं। इसके अलावा दूध व घी के सैंपल भी फेल पाए गए हैं। इन पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

-सुरेंद्र पूनिया

फूड सेफ्टी आफिसर फतेहाबाद

Posted By: Jagran