जागरण संवाददाता, फरीदाबाद: स्ट्रीट क्राइम पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से फरीदाबाद पुलिस द्वारा दिन-रात की नाकाबंदी शुरू की गई है। फिलहाल पुलिस उद्देश्य में सफल होती नहीं दिख रही। नाकाबंदी शुरू हुए चार दिन हो गए हैं, मगर वाहन चोरी, झपटमारी, लूट जैसे स्ट्रीट क्राइम पर कोई अंकुश नहीं है। इस अभियान के तहत पुलिस ने शहर में हर थाना क्षेत्र में प्रमुख जगहों पर नाकाबंदी की है। शहर में कम से कम 52 जगहों पर नाकाबंदी कर वाहनों की तलाशी ली जा रही है। इसके बाद भी बदमाश आसानी से वारदातों को अंजाम देकर फरार हो रहे हैं। नाकाबंदी शुरू होने के बावजूद रोजाना चार से पांच मोटरसाइकिलें शहर से चोरी हो रही हैं। झपटमारी के पांच मामले हो चुके हैं। वहीं रुपयों का बैग छीनने के दो मामले हो चुके हैं। आखिर क्यों नहीं रुक रहीं वारदातें

पुलिस आयुक्त संजय कुमार ने पिछले दिनों शहर में नए सिरे से नाकाबंदी की योजना तैयार की थी। उसके तहत हर थाने से उन जगहों की सूची मांगी गई थी, जहां नाका लगाए जाने की जरूरत है। फिलहाल उसी योजना के तहत नाकाबंदी की गई है। सेवानिवृत पुलिस अधिकारी पूर्णचंद ने बताया कि अगर नाकाबंदी के बावजूद वारदातें नहीं रुक रहीं तो इसका मतलब है कि बदमाशों ने चोर रास्ते ढूंढ लिए हैं। वारदात कर वे नाकाबंदी वाले रास्तों से जाने की बजाए अंदर गलियों से होकर गुजरते हैं। पुलिसकर्मी रोड पर वाहनों की जांच में लगे रहते हैं और बदमाश वारदात कर आसानी से फरार हो जाते हैं। अपराध पर अंकुश के लिए पुलिस को बदमाशों की मानसिकता समझनी पड़ेगी। उसी के अनुरूप कदम उठाए जाने की जरूरत है। ये हुई मुख्य वारदातें

19 जून : नीलम-बाटा रोड पर मोटरसाइकिल सवार दो बदमाशों ने दुकानदार भगवान सहाय से 46 हजार रुपयों से भरा बैग छीन लिया। नीलम-बाटा रोड पर पुलिस ने नाकाबंदी की हुई है।

19 जून : ग्रीन फील्ड कॉलोनी में कुत्ता घुमाने निकली युवती से मोटरसाइकिल सवार दो बदमाश सोने की चेन झपटकर ले गए। पुलिस ने युवती की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। युवती ने बताया कि सुबह गेट नंबर 10 के पास यह वारदात हुई।

18 जून : पर्वतीय कॉलोनी में मोटरसाइकिल पर सवार होकर आए तीन बदमाशों ने कलेक्शन एजेंट मनमोहन से एक लाख रुपयों से भरा बैग छीन लिया। बदमाशों ने सिर में पत्थर मारकर मनमोहन को नीचे गिराकर वारदात को अंजाम दिया।

15 जून : सेक्टर-62 के सामुदायिक भवन के सामने दो मोटरसाइकिलों पर सवार चार बदमाश पिस्तौल कनपटी पर लगाकर एक युवक से कार व मोबाइल फोन लूटकर भाग गए। नाकाबंदी का उद्देश्य शहर में पुलिस की मौजूदगी सुनिश्चित करना है। इससे बदमाशों में भय पैदा होगा। नाकाबंदी का असर जल्द दिखाई भी देगा।

-सूबे सिंह, पुलिस प्रवक्ता

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस