जासं, फरीदाबाद : केंद्र सरकार के संयुक्त सचिव श्रीनिवास दंडा ने शनिवार को गांव गोठड़ा मोहब्बताबाद में जन चौपाल में ग्रामीणों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि जल शक्ति अभियान-2 को धरातल पर मूर्त रूप देने के लिए वचनबद्धता से कार्य करें। ग्रामीण अधिकारियों से तालमेल करके इसका लाभ उठाएं।

उन्होंने कहा कि वर्षा के जल की संचित बूंद का उचित संरक्षण कर जल शक्ति अभियान-2 को प्रभावी रूप से सफल बनाने में प्रशासन अपनी सक्रिय भूमिका अदा करें। मौजूदा समय में जल शक्ति के प्रति जागरूकता और प्रयास दोनों बढ़ रहे हैं। खेतों में छोटे-छोटे तालाब बनाकर जल को संरक्षित किया जा रहा है। इससे किसानों को फायदा होगा। इसमें मनरेगा के तहत जल संरक्षण करने वाली योजनाओं को लिया गया है। इस अभियान के तहत ग्राम सभा में मिट्टी कार्य, पानी सोख्ता निर्माण, तालाब निर्माण सहित पौधारोपण की योजनाएं शामिल की गई हैं।

जन चौपाल में जल शक्ति अभियान -2 की तकनीकी अधिकारी पद्मावती, डीडीपीओ राकेश मोर, अतिरिक्त सीईओ जिला परिषद अंकिता, सिचाई विभाग के अधीक्षक अभियंता राजीव कुमार बत्रा, कार्यकारी अभियंता अश्विनी फोगाट, गांव के निवर्तमान सरपंच सहित अन्य लोग मौजूद थे। अधिकारियों संग बैठक भी ली

इससे पहले संयुक्त सचिव ने सूरजकुंड के राज हंस होटल में अधिकारियों संग बैठक की और इस योजना की विभागवार समीक्षा की। बैठक में जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव ने संयुक्त सचिव को जानकारी दी।

Edited By: Jagran