फरीदाबाद [प्रवीन कौशिक]। दिल्ली से सटे फरीदाबाद में 2 बच्चों के पानी से भरे गड्ढे में डूब जाने का दर्दनाक मामला सामने आया है। यह हैरान करने वाला हादसा तिगांव का है। यहां पर खेत में बने गड्ढे में डूबने से 2 बच्चों की मौत हो गई। मृतकों में एक 10 साल का सुंदर और एक 6 साल का बच्चा कार्तिक है। वहीं सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव निकालकर सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है।

भैंसरावली रोड स्थित  तिगांव के श्मशान घाट के सामने पंचायती जमीन पर काटी गई हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में रहने वाले दो बच्चे पानी से भरे हुए गड्ढे में डूब गए। घटना बुधवार शाम की है। करीब 8 बजे स्वजनों को इस बारे में पता लगा। तिगांव थाना पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने दोनों बच्चों के शव बीके अस्पताल की मोरचरी में रखवा दिए हैं। हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी निवासी राजेश ने बताया कि वह तिगांव में एक दुकान पर काम करता है।

पंचायती जमीन पर मिले 100 वर्गगज के प्लाट पर उसने मकान बनाया हुआ है। यहां और भी बहुत से लोग रहते हैं। इन मकानों के पीछे एक खेत से मिट्टी खोदाई का काम चल रहा है। खेत में कहीं 3 से 4 तो कहीं 6 से 7 फुट गहरे गड्ढे बने हुए हैं। इनमें बारिश का पानी भरा हुआ है। बुधवार शाम को उसका 10 साल का बेटा सुंदर व दर्शन का 7 साल का बेटा कार्तिक साथ खेल रहे थे। पता चला है कि दोनों किसी पतंग के पीछे दौड़ रहे थे। इसी चक्कर में वह खेत के बीच में बने गहर गड्ढे में पहुंच गए और डूब गए।

राजेश ने बताया कि वह बेटे की तलाश में बाजार आए। दो से तीन घंटे तक खूब तलाश की, लेकिन कुछ पता नहीं लगा। जब वह घर आए तो पड़ोस में रहने वाली एक बच्ची ने बताया कि खेत के पानी में सुंदर पड़ा है। वह तुरंत दौड़कर वहां पहुंचे। वह जैसे ही खेत में उतरे तो गड्ढे में अंदर चले गए। अन्य लोगों ने काफी मशक्कत कर उसे भी डूबने से बचाया। बेटा सुंदर व कार्तिक दोनों की मौत हो चुकी थी। तिगांव थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस