जागरण संवाददाता, फरीदाबाद : निगमायुक्त यशपाल यादव ने ग्रुप हाउसिग प्रोजेक्ट की नीलामी, खोरी बस्ती में हटाए गए कब्जों के बदले में लोगों को पुनर्वास नीति के तहत फ्लैट उपलब्ध कराने के काम में गति लाने तथा फरीदाबाद 311 एप पर आने वाली शिकायतों का समय रहते समाधान करने के मुद्दे पर अधिकारियों की बैठक ली। निगमायुक्त ने कहा कि निगम की वित्तीय स्थिति को सुधारने के लिये निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। बैठक में दुकानों की साइट के लिए भूमि के कुछ हिस्सों की बिक्री से संबंधित मुद्दों पर भी विस्तृत चर्चा की गई।

निगमायुक्त ने वरिष्ठ वास्तुकार को निर्देश दिए कि एक ऐसा कैलेंडर बनाएं, जिसमें उन सभी साइट और दुकानों की जानकारी हो, जिनकी नीलामी की जानी है। इनसे प्राप्त होने वाले राजस्व का पूर्ण विवरण हो, ताकि नीलामी से पहले की सभी औपचारिकताओं को जल्द से जल्द पूरा किया जा सके।

निगमायुक्त ने मुख्य अभियंता रामजी लाल को आदेश दिए कि जिन साइटों की नीलामी होनी है, वहां पर सभी बुनियादी सुविधाएं जल्द से जल्द उपलब्ध कराएं, ताकि भूमि की बिक्री के लिए आरक्षित मूल्य को भी निर्धारित करवाया जा सके। खोरी बस्ती के लोगों को डबुआ कालोनी तथा बापू नगर में फ्लैट देने के लिए जल्द व्यवस्था की जाए। 30 अप्रैल, 2022 तक पानी, सफाई तथा मरम्मत कार्य पूरा किए जाएं। उन्होंने कहा कि इस मामले में अधीक्षण अभियंता, एसडीओ, जेई की जिम्मेदारी है कि खोरी बस्ती में फिर से अतिक्रमण नहीं होना चाहिए। लंबित शिकायतों को जल्द से जल्द निपटाएं और रिपोर्ट उनके कार्यालय में भिजवाएं।

Edited By: Jagran