जागरण संवाददाता, फरीदाबाद : जिला प्रशासन की ओर से सेक्टर-12 में चल रहे तीन दिवसीय जिला स्तरीय गीता जयंती महोत्सव का रविवार को समापन किया गया। कार्यक्रम में केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर बतौर मुख्य अतिथि थे। राजकीय कन्या आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत कीं। जिला उपायुक्त अतुल कुमार और बल्लभगढ़ के एसडीएम त्रिलोक चंद ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के दौरान राधा-कृष्ण की झांकी आकर्षण का केंद्र रही। सिद्धदाता आश्रम के छात्रों ने श्लोक वाचन किया। केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कार्यक्रम में सहयोग करने पर अलग-अलग संस्थाओं के पदाधिकारियों को स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया। कृष्णपाल गुर्जर ने कर्म के महत्व पर चर्चा करते हुए कहा कि अच्छे कर्मों से जीवन में सफलता मिलती है। गीता हमें कर्म करने का संदेश देती है। उन्होंने कार्यक्रम में सहयोग करने पर सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों के प्रयासों की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में भी गीता का सार प्रासांगिक है। भगवान कृष्ण ने अर्जुन को गीता का संदेश दिया था। इस संदेश को अगर हम अमल में ले आएं, तो जीवन का सही अर्थ समझ में आ जाएगा। जिला उपायुक्त अतुल कुमार तथा फरीदाबाद के एसडीएम अमित कुमार ने भी अपने विचार प्रकट किए। कृष्णपाल गुर्जर ने अपने संबोधन से पहले प्रदर्शनी का अवलोकन किया। कार्यक्रम में जिला शिक्षा अधिकारी सतेंद्र वर्मा तथा शिक्षाविद रुद्रदत्त शास्त्री विशेष रूप से मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस