मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाद केंद्र, फरीदाबाद : नोएडा प्राधिकरण द्वारा नोएडा व फरीदाबाद की कनेक्टिविटी के लिए यमुना नदी पर दो पुल बनाए जाने की योजना पर जिला प्रशासन ने भी कसरत शुरू कर दी है। जिला उपायुक्त बलराज सिंह ने इनमें से एक पुल की योजना को मास्टर प्लान 2031 में शामिल करने के लिए जिला नगर योजनाकार रेणुका सिंह से कहा है। जबकि एक पुल की योजना मास्टर प्लान में पहले से ही शामिल है।

क्या है योजना

नोएडा प्राधिकरण ने यमुना नदी पर दो स्थानों पर पुल बनाने की योजना तैयार की है। ये पुल नोएडा व फरीदाबाद के बीच नए संपर्क मार्ग का कार्य करेंगे। यमुना नदी पर नोएडा के सेक्टर-168 और 167-ए के बीच 75 मीटर चौड़ी सड़क पर कालिंदी कुंज से 10 किलोमीटर दूर यमुना पर नया पुल बनाने की योजना है। जबकि दूसरा पुल सेक्टर-149-ए और सेक्टर-150 के बीच 75 मीटर चौड़ी सड़क के जरिये बनाया जाएगा। यह पुल फरीदाबाद जिले की सीमा और यमुना नदी के किनारे बसे गांव लालपुर से जोड़ने की योजना है। इन पुलों के निर्माण से नोएडा व ग्रेटर नोएडा-फरीदाबाद से सीधे जुड़ जाएंगे, लेकिन जिला प्रशासन के सामने इस योजना को लेकर थोड़ी परेशानी बढ़ गई है। इनमें से कालिंदी कुंज के पास बनने वाले पुल की योजना को मास्टर प्लान 2031 में शामिल नहीं किया गया है, जबकि गांव लालपुर यमुना नदी पर बनने वाले पुल को मास्टर प्लान में शामिल किया गया है। इस महत्वाकांक्षी योजना पर काम करने में भविष्य में कोई दिक्कत ना हो। इसलिए जिला उपायुक्त बलराज सिंह ने बुधवार को जिला नगर योजनाकार रेणुका सिंह से कहा कि दूसरे पुल की योजना को भी मास्टर प्लान में शामिल करने की प्रक्रिया शुरू की जाए।

--------------

हालांकि इस योजना के बारे में नोएडा प्राधिकरण ने लिखित में कुछ नहीं कहा है, लेकिन मौखिक तौर पर इस योजना पर बात हो रही हैं। हम निरीक्षण कर रहे हैं कि यमुना नदी पर दूसरे पुल की योजना कहां बेहतर रहेगी। इस बारे में हमारी उच्च अधिकारियों से भी बात हो रही है।

- रेणुका सिंह, जिला नगर योजनाकार

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप