जागरण संवाददाता, भिवानी: मौसम में परिवर्तन के साथ ही न्यूनतम और अधिकतम तापमान में सिर्फ ढाई डिग्री का अंतर रह गया है। दोनों तापमान के पास आने और शीतलहर के चलने से ठंड काफी ज्यादा बढ़ गई है। ठंड बढ़ने से लोग घरों में ही रहने को मजबूर है। इसका असर बाजार पर भी पड़ा है। लोग घर से बाहर नहीं निकल रहे है। शनिवार को न्यूनतम तापमान 8.9 डिग्री तक पहुंच गया। वहीं सुबह के समय धुंध छाने से वाहन चालकों को खासी परेशानी हुई। वाहन चालक काफी आराम से अपने गंतव्य की तरफ रवाना हुए।

जिले में सुबह के समय धुंध छाई रही। पूरा दिन धूप नहीं निकलने और ठंडी हवाएं चलने के कारण लोग ठंड में घरों के ही अंदर ही रहे। बाजार में दुकानदार और आम आदमी आग आस पास खुद को सेकते नजर आए। आने वाले दिनों में भी शीतलहर के साथ धुंध छाने की संभावना है।

मौसम विज्ञानियों के अनुसार अधिकतम और न्यूनतम के पास आने पर ठंड का असर ज्यादा होता है। शनिवार को न्यूनतम तापमान 8.9 डिग्री तो अधिकतम तापमान 11.4 डिग्री तक पहुंच गया। दोनों तापमान में सिर्फ ढाई डिग्री का गैप था। दूसरी तरफ ठंडी हवाओं ने लोगों को परेशान किया। बुजुर्ग और बच्चे घर से बाहर नहीं निकले।

धुंध छाने की संभावना

मौसम विज्ञानियों के अनुसार आने वाले दिनों में धुंध छाई रहेगी। सुबह के समय धुंध छाने के बाद दिन में मौसम साफ रह सकता है। यह आने वाले तीन चार दिन धुंध छा सकती है। धुंध से वाहन चालकों को अवश्य परेशानी होती है।

अलाव जलाकर ठंड से बच रहे लोग

शहर में लोग अलाव जलाकर ठंड से बच रहे है। बाजार में या दुकानों के पास लोग आग जलाकर बैठे है। ठंड से बचने के लिए वह कोई न कोई तरीका अपना रहे है।

Edited By: Jagran