जागरण संवाददाता, चरखी दादरी : दादरी के कोर्ट काम्पलेक्स में सेवामुक्त पीटीआइ शिक्षकों का धरना शनिवार को भी प्रधान सज्जन कुमार की अध्यक्षता में जारी रहा। धरने के 97वें दिन सुनील कुमार, ओमबीर सिंह, अनिता व बबीता पीटीआइ ने क्रमिक अनशन किया।

शारीरिक शिक्षक संघर्ष समिति के जिला प्रधान सज्जन कुमार ने कहा कि सरकार धरनारत पीटीआइ शिक्षकों की मांग पर ध्यान दे और जल्द से जल्द इनकी सेवाएं बहाल की जाएं। इन्होंने लगातार दस साल तक शिक्षा विभाग में पूरी निष्ठा से अपनी ड्यूटी निभाई हैं। खेल क्षेत्र में विद्यार्थियों ने ढेरों उपलब्धियां इन्हीं शिक्षकों के कुशल प्रशिक्षण में पाई हैं। इस अवसर पर युवा शक्ति संगठन के उपप्रधान बबलू बिगोवा ने धरने का समर्थन किया।

उन्होंने कहा कि 1983 पीटीआइ परिवारों की रोजी-रोटी छीनकर वर्तमान सरकार ने निदनीय कार्य किया है। जनता सरकार व इनके नेताओं के मनमाने रवैये से बेहद परेशान हैं। हर वर्ग सड़कों पर है। लेकिन सरकार समाधान की बजाए मूकदर्शक बनी है।

दादरी जिले के सेवा मुक्त पीटीआइ ने बिजली मंत्री रणजीत सिंह को सिरसा पहुंच कर ज्ञापन दिया। जिसमें उन्होंने सीएम मनोहर लाल से उनकी मांग पूरी करने बारे बातचीत करने की अपील की। जिला प्रधान सज्जन कुमार ने कहा कि 21 सितंबर को कृषि मंत्री जेपी दलाल से मुलाकात की तैयारियां हैं। हेमसा जिला अध्यक्ष विजय लांबा ने कहा कि पीटीआइ शिक्षको के संघर्ष में साथ देने के लिए हर प्रकार से तत्पर हैं।

इस मौके पर पूर्व हैडमास्टर मोतीराम, करतार सिंह,राजपाल सांगवान, राजकुमार घिकाड़ा, प्रवीन कुमार, प्रवीन चेयरमैन, रणबीरफौजी, डा. ओमप्रकाश आदमपुर, रविद्र घिकाड़ा, प्रवीन व विवेक खेड़ी सनवाल भी उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस