जागरण संवाददाता, चरखी दादरी : उपायुक्त प्रदीप गोदारा ने शुक्रवार को बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा किसानों को मेरी फसल, मेरा ब्यौरा पोर्टल पर पंजीकरण करने का एक और मौका दिया है। यह पोर्टल 14 से 17 अक्टूबर तक खुलेगा। योजनाओं का लाभ लेने के लिए किसान पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करें। पोर्टल पर पंजीकरण के लिए किसान वेबसाइट पर लाग इन करें। पोर्टल के माध्यम से फसलों की बुआई से लेकर मंडियों में फसल की बिक्री में भी सहायता मिलेगी। मेरी फसल, मेरा ब्यौरा पोर्टल के ये हैं फायदे

- किसी प्राकृतिक आपदा में फसल को नुकसान होगा तो आसानी से मुआवजा मिलेगा। क्योंकि सरकार के पास उस किसान का पूरा ब्यौरा पहले से दर्ज होगा।

-कृषि से संबंधित उपकरणों पर सब्सिडी भी आसानी से मिल जाएगी।

-कृषि से संबंधित जानकारियां समय पर मिलेंगी।

-बीज सब्सिडी और कृषि लोन लेने में भी आसानी रहेगी।

-फसल की बीजाई-कटाई का समय व मंडी संबंधित जानकारी मिलेगी। इन दस्तावेजों की होगी जरूरत

-आवेदक का आधार कार्ड।

-मोबाइल नंबर जरूरी है।

-निवास प्रमाण पत्र, पहचान पत्र।

-जमीन संबंधित दस्तावेज।

-परिवार पहचान पत्र।

-बैंक अकाउंट की जानकारी और मोबाइल नंबर। आवेदन करने का तरीका

-मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल के किसान अनुभाग में क्लिक करें

-इसके बाद किसान पंजीकरण कालम में जाएं

-यहां पर मोबाइल नंबर और कैप्चा भरकर लाग इन करें

-यहां जो-जो ब्यौरा मांगा जाएगा उसे भरकर सेव कर दें

-कोई दुविधा है तो इसके टोल फ्री नंबर 1800 180 2060 पर संपर्क करें।

Edited By: Jagran