जागरण संवाददाता, चरखी दादरी : हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश, पूर्व मंत्री किरण चौधरी और पूर्व सांसद श्रुति चौधरी के आह्वान पर वीरवार को कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने करनाल में किसानों पर हुए बर्बरतापूर्ण लाठीचार्ज, भूमि अधिग्रहण कानून में संशोधन, परिवार पहचान पत्र और बढ़ती महंगाई को लेकर दादरी के किला मैदान में एकत्रित होकर लघु सचिवालय तक नारेबाजी की। उन्होंने विरोध प्रदर्शन करते हुए राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सीटीएम अमित मान को सौंपा। अपनी मांग रखते हुए कांग्रेस नेताओं ने कहा कि हरियाणा की गठबंधन सरकार अपने तानाशाही पूर्ण रवैये के चलते लगातार जन विरोधी फैसले ले रही है। सरकार विपक्षी दलों, किसान, मजदूरों और आम जन मानस की आवाज को कुचलने और दबाने के लिए हर तरह के हथकंडे अपना रही है। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि करनाल में निहत्थे किसानों पर बर्बरता पूर्वक लाठीचार्ज के आदेश देने वाले एसडीएम को सरकार ने दंडित करने के बजाए बतौर इनाम अच्छी जगह स्थानांतरित किया है जो कि बेहद निदनीय है। उन्होंने कहा कि नौ महीने से भी अधिक समय से तीन कृषि कानूनों के खिलाफ संघर्ष कर रहे किसान मजदूरों की बात पर गौर करने की बजाय सरकार कई बार प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में लाठीचार्ज करवा चुकी है लेकिन सरकार भूल रही है कि इन्हीं लोगों के बदौलत ये लोग सत्ता के शीर्ष पर हैं। उन्होंने भूमि अधिग्रहण संशोधन कानून के बारे में बोलते हुए कहा कि यह कानून किसानों को बर्बाद करने वाला है। पहले ही किसानों को उनकी फसलों के पूरे दाम नहीं मिल पा रहे हैं और बहुत से किसानों ने आत्महत्या की है। रही सही कसर यह नया कानून पूरी कर देगा। पहले भूमि अधिग्रहण के लिए 70 फीसद किसानों की सहमति होना जरूरी था लेकिन इस नए कानून में इसकी कोई जरूरत नहीं रहेगी। सरकार किसानों की सुध लेने की बजाए उनकी जमीन हड़पने के लिए नया कानून ला रही है जो कि किसानों के जख्मों पर नमक छिड़कने के समान है। कांग्रेस सरकार ने हमेशा किसानों को सशक्त बनाने का काम किया लेकिन भाजपा सरकार लगातार अपने फैसलों कानूनों से किसानों को कमजोर करने का काम कर रही है। सरकार का मकसद अपने चुनिदा पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने का है। जलभराव को लेकर सरकार को घेरा

कांग्रेस नेताओं ने परिवार पहचान पत्र विधेयक पर एतराज जताते हुए इसे लोगों के नेता पर हमला करार दिया। उन्होंने बढ़ती महंगाई और जलभराव को लेकर भी सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी इस मुश्किल की घड़ी में लोगों के साथ खड़ी हैं और सरकार की जनविरोधी नीतियों का डटकर जवाब देंगे। ये रहे मौजूद

इस अवसर पर पूर्व विधायक धर्मपाल सांगवान, पूर्व चेयरमैन अजीत फौगाट, जिला कोआर्डिनेटर दिलबाग नीमड़ी, किसान नेता राजू मान, विजय खोरडा, रणबीर फौजी, घिकाड़ा, देवेंद्र लीला समसपुर, आनंद सिंह एडवोकेट, सुशील धानक, प्रवीण चेयरमैन, महिला जिला अध्यक्ष सत्या लेघा, बलजीत फौगाट, एडवोकेट नवीन बखेता, हैप्पी अटेला, सुदीप सांगवान एडवोकेट, सुरेश पुनिया, राकेश मोरवाल, जयभगवान बीडीसी, सुनील सांगवान, अरुण दहिया, हरकेश बलकरा, अमित फतेहगढ़, राजेश मोरवाला, रविद्र गोपी, भूप ठेकेदार कमोद, नवनीत फौजी इमलोटा, डा. चंदन समसपुर, रामअवतार खोरड़ा, नागेश द्वारका, जयसिंह कटारिया, सुनीता सांगवान, प्रमोद डोहकी, संजय डोहका, रामपाल सरूपगढ़ इत्यादि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran