जागरण संवाददाता, भिवानी: यदि धरातल पर मानव जीवन को बचाना है तो संसाधनों का सदुपयोग बहुत जरूरी है। विश्वविद्यालय के इस सामाजिक जागरूकता अभियान से प्रत्येक नागरिक को जुड़ना चाहिए। ये विचार चौधरी बंसीलाल विश्वविद्याल के कुलपति प्रो. आरके मित्तल ने कहे। उन्होंने कहा कि हमें वातावरण को प्रदूषित होने से बचाने के लिए पॉलीथिन का प्रयोग बंद करना होगा। कपड़े से बने थैले का प्रयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्लास्टिक के प्रयोग से कैंसर जैसी भयंकर बीमारी फैल रही है। उन्होंने कहा कि हमें प्रकृति के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध रखने होंगे नहीं तो प्राकृतिक त्रासदियां और महामारियां आती रहेंगी और संपूर्ण मानव जीवन संकट में पड़ जाएगा। हमें संसाधनों का अनावश्यक दोहन बंद करके उनका सदुपयोग करना चाहिए। हमें उपभोग आवश्यकता के अनुसार करना चाहिए। गौरतलब होगा कि चौधरी बंसीलाल विश्वविद्यालय द्वारा उपभोग अभियान चलाया जा रहा है। जिसमें विभिन्न क्षेत्रों की बड़ी बड़ी हस्तियों सहित गणमान्य व्यक्ति एवं आम नागरिक सहभागिता कर रहे हैं। प्रो. मित्तल की अगुवाई में त्रिवेणी डेंटल क्लीनिक के निदेशक डा. कपिल शर्मा और वर्धमान ज्वेलर्स के मालिक सचिन जैन ने विश्वविद्यालय पहुंचकर सतत् उपभोग अभियान तहत शपथ ली।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021