सुरेश मेहरा, भिवानी : 23 मार्च 2018, मौका था भारत केसरी दंगल का समापन समारोह। मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने इस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की थी। इस दौरान उन्होंने खिलाड़ियों को भाषण से प्रोत्साहित किया था। दमदार और शानदार दंगल के आयोजन के साथ उनको भी खूब वाहवाही मिली थी। इस शानदार आयोजन से खुश होकर उन्होंने भिवानी में इंडोर हाल बनाने की घोषणा की। इसके बनने से एक ही छत के नीचे सभी खेलों के खिलाड़ियों को खुद को तराशने का अवसर मिलता। लेकिन यह सब फाइलों के फेर में ही उलझ कर रह गया। इंडोर हॉल पर काम शुरू होना तो दूर 12 महीने में सीएम की घोषणा को सीएम कोड ही नहीं मिल पाया। कई बार किया पत्राचार, खेल विभाग को अभी भी इंतजार खेल विभाग ने सीएम आफिस एक बार नहीं कई बार पत्राचार किया। अभी तक भिवानी में सीएम की घोषणा के मुताबिक इंडोर हाल बनाने को लेकर कोई जवाब नहीं आया। हालांकि खेल विभाग को अभी भी इंतजार है कि मुख्यमंत्री अपनी घोषणा को लोकसभा चुनाव के बाद साकार कर देंगे। खेल विभाग के अधिकारियों के अनुसार भिवानी मिनी क्यूबा के रूप में पहचान रखता है इसलिए उनको भरोसा है मुख्यमंत्री भिवानी को इंडोर हाल जल्द दे देंगे। बीपीएस स्कूल के साथ जमीन पर इंडोर हाल बनाने को भेजा था प्रस्ताव खेल विभाग अधिकारियों की मानें तो विभाग ने बीपीएस स्कूल के साथ लगती करीब 15 एकड़ जमीन का प्रस्ताव चंडीगढ़ विभागीय अधिकारियों और मुख्यमंत्री कार्यालय को भेजा था। इसमें मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुसार यह बताया गया था कि यहां पर इंडोर हाल बनाया जाए तो खिलाड़ियों के लिए उत्तम रहेगा। लेकिन यह प्रस्ताव फाइलों के फेर में ही उलझ कर रह गया। अभी भी मिनी क्यूबा के खिलाड़ियों को मुख्यमंत्री से उम्मीद है कि उनके यहां इंडोर हाल की सुध ली जाएगी। भीम स्टेडियम में विभिन्न खेलों के 3000 से ज्यादा खिलाड़ी अभ्यास करते हैं। सुबह सायं यहां खिलाड़ियों का जुनून देखा जा सकता है। भीम स्टेडियम के अनेक खिलाड़ी प्रदेश का नाम रोशन कर रहे हैं। अधिकारी इंडोर हाल बनवाने को गंभीरता से लें खेल विभाग और प्रशासनिक अधिकारी भिवानी में बनने वाले मल्टीपर्पज इंडोर हाल बनवाने को गंभीरता से लें। यह खिलाड़ियों का मंदिर है। जितनी ज्यादा सुविधाएं होंगी खिलाड़ियों का उतना ही भला होगा। इसके लिए तेजी से सार्थक प्रयास किए जाने चाहिए।

छाजूराम गोयत, पूर्व डिप्टी डायरेक्टर आला अधिकारियों को हमने कई बार लिखा है। फिलहाल आचार संहिता है। चुनाव के बाद संभव है सीएम घोषणा को कोड नंबर मिल जाए। विभाग की तरफ से जो जरूरी हैं वे प्रयास किए जा रहे हैं।

जेजी बनर्जी, जिला खेल अधिकारी, भिवानी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस