जागरण संवाददाता, भिवानी: हर पर्व की तरह गणेश उत्सव भी नि:शुल्क आस्था स्पेशल स्कूल के दिव्यांग, मूकबधीर, दृष्टि बाधित, मानसिकमंद बच्चों ने बड़े उत्साह के साथ मनाया और गणेश भगवान की प्रतिमा को स्कूल में स्थापित किया। स्कूल प्राचार्या सुमन शर्मा ने बच्चों को सामाजिक व अपने त्यौहारों के महत्व के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि भगवान गणेश को बुद्धि व शांति का देवता माना गया है। जिस ब?च्चे की बुद्धि का विकास होगा और मन में शांति होगी वहां रिद्धि और सिद्धि का वास होगा। समारोह में मुख्यअतिथि के रूप में उपस्थित हुए समाजसेवी एडवोकेट शिवरत्न गुप्ता व सुनीता गुप्ता ने भी बच्चों का उत्साहवर्धन किया और उन्हें ज्यादा से ज्यादा पढ़ाई करने का संदेश दिया। उन्होंने बताया कि भगवान गणेश को जिस प्रकार से बुद्धि का देवता और हर शुभकार्य को करने से पहले उनको पूजा जाता है। उन्हें भी अपनी पढ़ाई आरंभ करने से पहले गणेश भगवान को याद करें। उन्होंने कहा कि आस्था संस्था ने दिव्यांग बच्चों को समाज की मुख्यधारा में लाने व उनके साहस को बढ़ाने के लिए जो प्रयास किए जा रहे है वे समाज सेवा में बहुत बड़ा कार्य है। उन्होंने स्कूल के बच्चों की पढ़ाई के लिए 5100 रुपये का सहयोग दिया और आगे भी बच्चों की मद्द करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर मा. ऋतुपूर्ण ओला एवं संस्थापक विजय कुमार ने आए हुए अतिथियों का आभार प्रकट करते हुए स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित करते हुए बताया कि गणेश विसर्जन 29 अगस्त को किया जाएगा। इस अवसर पर प्रिया, दयाकिशन बूरा, कवेंद्र घणघस, सुरेंद्र, प्रिया, मुकेश, ज्योति समेत बच्चों के अभिभावक भी मौजूद थे।

Posted By: Jagran