समालखा, जागरण संवाददाता। थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति सेक्सटार्शन गिरोह के जाल में फंसकर करीब सात लाख रुपये गंवा बैठा। मामला पिछले साल दिसंबर माह का है। शिक्षक से वाट्सएप काल पर एक महिला ने नग्न होकर अश्लील बातें कर जाल में फंसाकर शिक्षक की भी नग्न वीडियो बना ली और फिर उसे इंटरनेट मीडिया पर वायरल करने की धमकी देते हुए पैसे ठगने शुरू कर दिए। शिक्षक ने पैसे देने से मना किया तो गिरोह में से एक ठग ने खुद को आइपीएस राकेश अस्थाना बन धमकाया भी। अब पीड़ित शिक्षक ने मामले की शिकायत पुलिस को दी है

पहले दिन काल और दूसरे दिन से ब्लैकमेलिंग शुरू 

पीड़ित ने थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह जेबीटी शिक्षक है। 20 दिसंबर को उसके वाट्सएप पर करीब 11 बजे एक वीडियो काल आई। उसने जैसे ही काल रिसीव की तो सामने एक नग्न लड़की बैठी हुई थी। इसी दौरान लड़की ने उससे अश्लील बातें करते हुए फंसाकर अश्लील वीडियो बना ली। लड़की ने बातचीत के दौरान ही उसके वाट्सएप पर मैसेज भी भेजे। इसके बाद अगले दिन धमकी देने लगी कि तुम्हारी अश्लील वीडियो को फेसबुक, यूट्यूब आदि इंटरनेट मीडिया पर वायरल कर देंगे। शिक्षक ने ऐसा न करने के बारे में कहा तो वो पैसे की डिमांड करने लगी।

ऐसे हुआ ठगे जाने का शक

खुद को आइपीएस बताने वाले ठग ने फोन कर महिला द्वारा सुसाइड करने और स्वजनों द्वारा जयपुर में उसके खिलाफ शिकायत देने बारे कह मामले को रफा-दफा करने की एवज में पैसे मांगे। उसने पैसे डलवाने के लिए लेकर जो नंबर दिया, वो मुम्बई के एक बैंक का था। ऐसे में उसे गिरोह के शिकार होकर ठगे जाने का अहसास हुआ तो उसने उक्त लोगों के सभी नंबर ब्लाक कर दिए और मामले की शिकायत थाना पुलिस को दी।

आइपीएस ने दी पैसे देकर केस से बचने की सलाह

शिक्षक के मुताबिक 22 दिसंबर को उसके पास काल करने वाले ने खुद को आइपीएस राकेश अस्थाना बताया। ट्रू-कालर पर भी नाम आइपीएस राकेश अस्थाना लिखा आया। वर्दी में फोटो भी लगी थी। खुद को आइपीएस अधिकारी बताने वाले ठग ने कहा कि तुम्हारे खिलाफ एक शिकायत मिली है। तुम केस में फंस जाओ, इससे अच्छा वीडियो डिलीट करवा लो। उन्होंने उसे एक नंबर देकर संपर्क करने के लिए कहा। वो वीडियो हटवाने के चक्कर में उनकी बातों में आ गया और उनके कहने पर विभिन्न खातों में सात बार 6 लाख 95 हजार 500 रुपये डलवा दिए।

Edited By: Jagran News Network

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट