जागरण संवाददाता, भिवानी। शहर में रेलवे स्टेशन के पास हुई दिनदहाड़े 35 लाख रुपये की लूट से सनसनी फैल गई। वारदात रेलवे स्टेशन के मालगोदाम रोड पर हुई। मोटरसााइमिल सवार हथियारबंद दो बदमाशों ने आभूूषण व्यापारी दाे भाइयों को लूट लिया। दोनों आभूषणों की खरीद के लिए दिल्ली जा रहे थे। उन्हें किसान एक्सप्रेस ट्रेन पकड़नी थी। बदमाशों ने दोनों को डराने के लिए हवा में गोलियां भी चलाईं।

पुलिस पर बार-बार फोन करने के बावजूद घटनास्थल पर देर से पहुंचने का अारोप

व्यापारियों व घटनास्थल पर मौजूद लोेगों का आराेप है कि वे फोन करते रहे, लेकिन पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। कई बार फोन करने के बाद पुलिस आधा घंटै बाद पहुंची।

यह भी पढ़ें : कुरुक्षेत्र एनआइटी में दलित छात्र के प्रति असहिष्णुता!

जानकारी के अनुसार, शहर के रघुनाथ गली निवासी दो भाई राकेश व राजेश भिवानी रेलवे स्टेशन जा रहे थे। उन्हें किसान एक्सप्रेस ट्रेन पकड़ी थी। उन्हें दिल्ली से आभूषण लाना था। दोनों मोटरसाइकिल पर जा रहे थे। उनके पास थैले में 35 लाख रुपये की नकदी थी।

वारदात के बाद घटनास्थल पर लगी भीड़।

वे स्टेशन के पास मालगोदाम रोड पर पहुंचे तो पल्सर मोटरसाइकिल पर आए दो युवकों ने उन्हें रोक लिया। दोनों हथियार दिखाकर रुपये से भरा थैला उनसे छीन लिया अौर फरार हो गए। बदमाशों ने दोनों को डराने के लिए पिस्तौल सेे हवा में फायरिंग भी की। घटना के बाद लोगों की भीड़ जमा हो गई। व्यापारी व आस-पास के लोग पुलिस को आधा घंटे तक फोन करते रहे, लेकिन पुलिस मौके पर नहीं पहुंची।

यह भी पढ़ें : शराब के नशे में पिता ने बेटी को ही बनाया हवस का शिकार

आधा घंटे बाद पुलिस मौके पर पहुंची। घटना के बाद नाकाबंदी करने की बजाए पुलिस लूट के शिकार दोनों व्यापारियों को पीसीआर में बैठाकर इधर-उधर घुमाते रही। लेकिन, बदमाशों का कोई सुराग नहीं लगा। पुलिस की कार्यप्रणाली से लोगों मे आक्रोश है।