जागरण संवाददाता, चरखी दादरी :

रोडवेज डिपो परिसर में शुक्रवार को कर्मचारियों ने रोष सभा का आयोजन किया। इसकी अध्यक्षता प्रधान धर्मबीर ¨सह डाला ने की। सभा में सरकार की वादाखिलाफी के विरोध में हरियाणा कर्मचारी महासंघ द्वारा प्रस्तावित 20 फरवरी की प्रदेश व्यापी हड़ताल को सफल बनाने का फैसला लिया गया। सभा का संचालन रोडवेज कर्मचारी यूनियन प्रदेश उपाध्यक्ष रणबीर ¨सह गहलोत ने किया। बतौर मुख्य वक्ता रोडवेज कर्मचारी यूनियन प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र ¨सह धनखड़, चेयरमैन ओमप्रकाश ग्रेवाल, अध्यापक संघ

नेता संजीव मंदौला ने कहा कि 18 सितम्बर को प्रदेश के मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में महासंघ की बैठक में कई मांगों पर सहमति बनी थी और उन्हें राज्य सरकार द्वारा हरियाणा दिवस पर पूरा किया जाना था। लेकिन सरकार ने कर्मी विरोधी रवैये का परिचय देते हुए उपरोक्त समझौते के तहत किसी भी मांग को पूरा नहीं किया, जिससे कर्मचारियों में भारी रोष है। कर्मचारी नेताओं ने बताया कि 20 फरवरी को पूरे प्रदेश में रोडवेज का चक्का जाम होगा। बिजली निगम, जनस्वास्थ्य, शिक्षा तथा राज्य सरकार के सभी सरकारी विभागों में कामकाज बंद रहेगा। यदि 20 तारीख से पहले कच्चे कर्मियों को पक्का करना, जोखिम भत्ता लागू करना, रिक्त पदों पर स्थाई भर्ती करना, केंद्र के समान जनवरी 2016 से भत्ते राज्य कर्मियों के लिए लागू करना, पिछली विसंगतियों को दूर करते हुए पंजाब के समान वेतनमान देना, आंगनबाड़ी और सहायकों को सरकारी कर्मचारी का दर्जा देते हुए उनका न्यूनतम वेतन 26 हजार प्रतिमाह लागू करने सहित महासंघ द्वारा सौंपे गए मांग पत्र को पूरी लागू नहीं किया जाता है तो हड़ताल अनिश्चितकालीन भी हो सकती है। कर्मचारी नेता रणबीर गहलोत व धर्मबीर डाला ने कहा कि दादरी व सब डिपो लोहारू में 20 तारीख को पूर्ण रूप से चक्का जाम रहेगा। इस अवसर पर प्रीत भागवी, विनोद गिगनाऊ, हिम्मत भागवी, करतार साहू, श्रीभगवान मंदौला, रवि सोलंकी, सूरज श्योराण, इंद्र ¨सह राणा, रामनिवास, रतन ¨सह, प्रवीन, लाला, राजपाल, मंजीत दलाल, बिल्लू झोझू इत्यादि भी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस