नंबर गेम :

-330 पथ विक्रेताओं को मिला पहचान पत्र

-143 पथ विक्रेताओं को लेटर आफ रिक्मेंडेशन

-200 पथ विक्रेताओं के आवेदन बैंकों के पास हैं

-10 पथ विक्रेताओ को क्यूआरकोड वितरित

जागरण संवाददाता, चरखी दादरी : दादरी नगर परिषद कार्यालय में प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत चल रहे डिजिटल आन बोर्डिग ट्रेनिग प्रोग्राम का आयोजन किया गया। पिछले दिन दिन से अब तक 150 पथ विक्रेताओं को पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत लाभ मिल चुका है। दादरी नगर परिषद के चेयरमैन संजय छपारिया की अध्यक्षता में प्रशिक्षण शिविर में करीब 50 पथ विक्रेताओं ने भाग लिया।

संजय छपारिया ने बताया कि सरकार पथ विक्रेताओं को डिजिटल पेमेंट से जोड़ना चाहती है ताकि लेन-देन में पारदर्शिता आ सके। उन्होंने बैंकों से आए सभी प्रबंधकों को हिदायत दी कि वे कम समय में ही उन्हें ऋण मुहैया करवाएं। कार्यकारी अधिकारी मनोज यादव ने भी बैंक प्रबंधकों को समय पर पथ विक्रेताओं को लोन देने के लिए कहा। शहरी वित्तीय विशेषज्ञ रश्मि शर्मा ने पथ विक्रेताओं को डिजिटल पेमेंट के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने बताया कि दादरी में 330 पथ विक्रेताओं को आइडी कार्ड एवं 143 पथ विक्रेताओं को लेटर आफ रिक्मेंडेशन दिया जा चुका है। बैंकों के पास अभी भी 200 पथ विक्रेताओं के आवेदन है जिन्हें लोन दिया जाना शेष है। प्राइवेट सेक्टर के बैंक सरकारी स्कीमों में कोई रूचि नही ले रहे हैं। नगरपरिषद दादरी में यूनियन बैंक, आंध्रा बैंक, कारपोरेशन बैंक, बैंक आफ बड़ोदा, एक्सिस बैंक के प्रबंधकों को बुलाया गया था। कैंप में एनयूएलएम से विनय जोशी, कपिल, सुरेश, प्रदीप इत्यादि भी उपस्थित रहे। जिला अग्रणी बैंक से राजवंती ने भाग लिया। संजय छपारिया ने 10 पथ विक्रेताओं को क्यूआर कोड वितरित किए।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021