जागरण संवाददाता,भिवानी : टीआइटी कॉलोनी निवासी अनुबंधित महिला टीचर के खाते से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन से 1 लाख 77 हजार 762 रुपये निकालने का मामला सामने आया है। महिला टीचर ने ऑनलाइन ट्रांजेक्शन का पता लगते ही बैंक में शिकायत दे दी थी, लेकिन इसके बावजूद भी किसी ने उसके खाते से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के माध्यम से 1 लाख 77 हजार 762 रुपये निकाल लिए। इस पर पीड़िता ने पुलिस को शिकायत दे दी। पुलिस ने मामला दर्ज करके कार्रवाई आरंभ कर दी।

टीआइटी कॉलोनी निवासी वंदना शर्मा के पति अशोक कुमार ने बताया कि उसकी पत्नी का अकाउंट यूको बैंक में है। वंदना सरकारी स्कूल में अनुबंध के आधार पर टीचर लगी हुई है। 17 मई को वंदना ने ऑनलाइन साइट से सूट मंगवाया था। साथ ही 18 मई को आनलाइन साइट से एक मोबाइल भी आर्डर किया था। 21 मई को सूट की डिलिवरी हुई। सूट पसंद नहीं आने पर कस्टमर केयर में बात की तो उन्होंने कह कि पैसे वापस हो जाएंगे। सामने वाले ने कहा कि हम जो आपके नंबर पर लिक भेजेंगे उसे एक अन्य नंबर पर भेज देना। लिक भेजने के बाद एक ओटीपी आया और उन्होंने ओटीपी पूछा। एटीएम गलती से बताने के बाद 29 हजार 999 रुपये ट्रांजेक्शन का मैसेज आया। साथ ही खाते से 5 हजार रुपये एम बैंकिग से निकालने का मैसेज आया। इस पर वंदना तुरंत बैंक में चली गई। वहां पर मिले कर्मचारी को पूरी घटना बताई। इस पर उक्त कर्मचारी ने डेबिट कार्ड ब्लाक कर दिया है। मोबाइल नंबर बदला और व नया एटीएम कार्ड व एटीएम पिन दे दिए। इसके बाद वे बैंक पहुंची और इसकी शिकायत बैंक मैनेजर को दी। उन्होंने इस मामले में कुछ भी कार्रवाई से मना कर दिया। इस पर पीड़िता ने इसकी शिकायत पुलिस को दी गई। जांच अधिकारी सतीश कुमार ने पीड़िता की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है। मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस