जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ :

मनी ट्रासफर का काम करने वाले दो भाईयों से रविवार की रात बदमाशों ने दो लाख से भरा बैग लिया। विरोध करने पर एक को सिर में चोट मारकर जख्मी कर दिया। दोनों भाइयों को पहले बदमाशों ने चलती बाइक पर धक्का देकर सड़क पर गिराया। फिर बैग छीना। घायल शख्स को शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

शहर की उत्तम कालोनी के रहने वाले अमित और उसका भाई दिनेश दोनों टीकरी बॉर्डर के पास मेडिकल स्टोर और मनी ट्रासफर का ऑफिस चलाते है। रविवार की रात सवा 10 बजे दोनो ऑफिस बंद करके घर के लिए बाइक पर निकले थे। बाइक को दिनेश चला रहा था। जबकि वह खुद बैग संभाले हुए था। बैग में दो लाख की नकदी के अलावा एटीएम कार्ड, आधार कार व अन्य दस्तावेज थे। जब वे झज्जार रोड पर डाकघर के सामने पहुचे तो पीछे से बाइक पर तीन बदमाश आए। उन्होंने चलती बाइक पर धक्का दे दिया। इससे दोनो भाई बाइक समेत सड़क पर गिर गए। दिनेश बाइक के नीचे दब गया। इसी बीच बदमाशों में से एक उतरकर आया और बैग छीन लिया। अमित ने भागकर उन्हे पकड़ने की कोशिश की तो दूसरे ने उसके सिर में राड से हमला कर दिया। इससे वह जख्मी होकर गिर गया और बदमाश भाग निकले। घायल अमित को शहर के निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया। उधर, सूचना पाकर परिजन व पुलिस मौके पर आ गए। पुलिस ने घायल अमित के ब्यान पर केस दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। दो दिन के अंदर लूट और झपटमारी की तीन बड़ी वारदात

शहर में एक बार फिर बदमाशों ने सिर उठाया है। दो दिन के अंदर तीन बड़ी वारदातों को अंजाम दिया गया। 8 सितंबर की शाम को सेक्टर-6 के पास स्कूटी पर पति के साथ सवार शिक्षिका के गले से चेन झपट ली गई थी तो रात के समय डयूटी से घर लौट रहे कंपनी कर्मचारी से पिस्तौल के बल पर उसकी बाइक, मोबाइल छीन लिए थे। इन घटनाओं के 24 घटे बाद ही 9 सितंबर की रात को दो लाख रुपये लूटने की घटना हुई। इन घटनाओं से पुलिस सकते में है। वारदात स्थल के आसपास स्थित भवनों पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज तलाशी जा रही है। वर्जन..

घटना को लेकर केस दर्ज कर लिया गया है। जाच की जा रही है। अभी कोई सुराग नहीं मिला है। पुलिस की कई टीमें इस पर काम कर रही है।

--सुरेद्र सिंह, शहर थाना प्रभारी, बहादुरगढ़।

Posted By: Jagran