जेएनएन मुलाना [अंबाला]। मां-बेटी सुबह उठे तो परिवार का मुखिया यानी महिला का पति मृत मिला। आनन-फानन में मृत शरीर को दफनाने की तैयारी की जाने लगी, लेकिन तभी पुलिस पहुंच गई। इसके बाद पूछताछ में बेटी ने पिता की मौत का जो राज खोला उससे पुलिस दंग रह गई। पुलिस ने जब मां-बेटी से अलग-अलग पूछताछ की तो मौत का राज खुला। बेटी ने बताया कि पिता का उसकी मां के साथ रात में झगड़ा हुआ था और उनकी नाक पर चोट के निशान भी थे। इसके बाद पुलिस ने नसीर की पत्नी से भी पूछताछ की और उसे गिरफ्तार कर लिया।

साहा-जगाधरी नेशनल हाईवे पर सिरसगढ़ गांव में घरेलू विवाद के चलते पत्नी शहजादा ने पति नसीर खान (50) की सोते समय रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर दी। नसीर सहारनपुर जिले के गांव कुंडा गाजियो का रहने वाला था। पति की हत्या करने के बाद अनजान बनी शहजादा सुबह बेटी के साथ सोकर उठी तो कमरे में पति की मौत पर रोना शुरू कर दिया। अलग मकान में रहने वाले बेटे को पिता की मौत का पता चला तो वह भी घर पहुंच गया। उसने अपने पिता को दफनाने की तैयारी शुरू कर दी और कपड़े तक बदल दिए, लेकिन तब तक पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने नसीर की पत्नी और बेटी को हिरासत में लेकर पूछताछ की।

पूछताछ में बेटी ने पिता की मौत का राज खोल दिया। शाम को नसीर के भाई मतलूब खान ने भाभी और अन्य के खिलाफ हत्या करने की शिकायत दी। इस पर पुलिस ने शहजादा व अन्य के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। देर शाम तक पुलिस और फोरेंसिक टीमें मामले की जांच में जुटी थी।

रात में दंपति में हुआ था झगड़ा

नसीर खान करीब 20 साल से सिरसगढ़ में राजमहल ढाबे के पीछे स्थित मकान में रहता था। वह होली गांव के एक जमींदार के पास नौकरी करता था। उसकी एक बेटी ने प्रेम विवाह कर लिया था और बेटा ईशू भी परिवार से अलग किराये के मकान में रहता है। दंपती में अकसर घरेलू विवाद के कारण झगड़ा होता था। मंगलवार रात भी दोनों में काफी झगड़ा हुआ। नसीर खान पत्नी और बेटी से अलग अकेला कमरे में सोता था।

बुधवार सुबह जब मां-बेटी उठे तो उन्होंने नसीर खान को मृत पाया। उसकी चारपाई पर एक प्लास्टिक की रस्सी बंधी थी और गर्दन पर गला घोंटने के निशान थे। बेटी ने भाई ईशू को फोन कर घर बुलाया। साथ ही जमींदार को फोन कर कहा कि पापा नौकरी पर नहीं आएंगे, वह अब इस दुनिया में नहीं रहे।

बेटे ने बदल दिए थे पिता के कपड़े

बेटे ईशू को भी नहीं पता था कि पिता नसीर की मौत सामान्य नहीं, बल्कि उनकी हत्या की गई है। उसने पिता को दफनाने के लिए उनके कपड़े तक बदल दिए थे। इसी बीच, होली गांव का जमींदार पहुंच गया। उसने नसीर के गले पर निशान व रस्सी देख पुलिस को सूचना दी। वहीं राजमहल ढाबा संचालक भी घटना के बाद फरार हो गया था। पुलिस ने नसीर के पुराने कपड़े भी कब्जे में ले लिए हैं।

बेटी ने खोला राज

मां-बेटी के बयान अलग-अलग होने पर पुलिस को दोनों पर शक हुआ। पुलिस दोनों को हिरासत में लेकर मुलाना थाने ले आई। यहां पुलिस ने दोनों से अलग-अलग और फिर आमने-सामने कई बार पूछताछ की तो बयानों में काफी अंतर आया। पुलिस की पूछताछ में नसीर की बेटी ने बताया कि पिता का उसकी मां के साथ रात में झगड़ा हुआ था और उनकी नाक पर चोट के निशान भी थे। इसके बाद पुलिस ने नसीर की पत्नी से भी पूछताछ की और उसे गिरफ्तार कर लिया।

पत्नी से की जा रही पूछताछ

डीएसपी बराड़ा सुधीर सिंह तनेजा का कहना है कि नसीर की रस्सी से गला घोंटकर हत्या की गई थी। घरेलू विवाद में भी हत्या की जा सकती है, इसके अलावा विभिन्न पहलुओं पर मामले की जांच की जा रही है। नसीर की पत्नी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। शव को एमएम मुलाना अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए रखवाया गया है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस