जागरण संवाददाता, अंबाला शहर:

जिले में हुई 81 एमएम बरसात ने ही हालत बिगाड़ दी। जिसके चलते अंबाला शहर और छावनी और ग्रामीण क्षेत्रों की सड़कें तालाब बन गई। बरसात हल्की होने के बाद अंबाला शहर के विधायक असीम गोयल और नगर निगम की मेयर शक्ति रानी शर्मा समर्थकों साथ सड़कों पर पानी में उतरे और अधिकारियों की क्लास लगाई। हालांकि, बड़े अधिकारी चैंबरों में ही रहें। डीसी कार्यालय परिसर में भी पानी पानी रहा। डीसी साहब की गाड़ी भी पानी में ही खड़ी नजर आइ। इसके अलावा सरकारी कार्यालयों से लेकर लोगों की दुकानों में पानी घुस गया। कोई भी बड़ा अधिकारी किन किन इलाकों में पानी भरा है और कहां लोगों को दिक्कत आ रही है किसी ने जानने तक का प्रयास नहीं किया। ऐसे में दिन भर जनता परेशान होती रही।

अंबाला शहर में मंगलवार रात 11 बजे ही बरसात होना शुरू हो गई थी। कुछ बरसात होने के बाद अलसुबह से बरसात फिर शुरू हो गई थी। जो दोपहर लगभग साढ़े 11 बजे तक जारी रही। हालांकि बाद में हल्की बूंदाबांदी रही। इतने समय में ही 81.1 एमएम बरसात हो गई। जिसके चलते लोगों के लिए मुसीबत बन गई। बरसात से डीसी कार्यालय तक नहीं बच पाया, क्योंकि बरसात के बंद होने के बाद भी कार्यालय पानी में डूबा रहा। इसी तरह माडल टाउन चौकी और होमगार्ड कार्यालय भी पानी ही पानी रहा। दुर्गानगर में दुकानों में पानी घुस गया।

-विधायक और मेयर ने बरसात के बाद किया दौरा मेयर शक्तिरानी शर्मा ने अपनी टीम के साथ अंबाला शहर के टीबी अस्पताल रोड, जगाधरी गेट, ओल्ड सिविल अस्पताल रोड, जलबेहड़ा रोड, परशुराम कालोनी, रतनगढ़, मानव चौक, कपड़ा मार्केट रोड, शुक्लकुंड रोड, प्रेम मंदिर रोड, कांग्रेस भवन रोड, नदी मुहल्ला, रविदास माजरी, नावल्टी रोड, ओल्ड पोस्ट आफिस, ओल्ड घास मंडी, दो खंभा चौक, नाहन हाऊस, इंद्रपुरी चौक, टेलीफोन एक्सचेंज रोड से पुलिस लाइन चौक तक, माडल टाउन रोड का दौरा कर लोगों की समस्याएं जानी।

वहीं विधायक असीम गोयल ने सिचाई विभाग, नगर निगम व जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बरसात में पुलिस लाइन रोड, आर्य चौक के नजदीक, बनुड़ी नाका, घेल ड्रेन, सिघावाला ड्रेन के साथ-साथ अन्य जगहों का जायजा लेते हुए वहां की व्यवस्थाएं चेक की। अस्थाई पम्पों के माध्यम से बरसाती पानी की निकासी सुचारू रूप से हो रही है, इस स्थिति का जायजा लिया।

-ऐसा रहा मौसम का हाल मौसम विभाग के मुताबिक बुधवार को अधिकतम तापमान 26.6 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से 7 डिग्री कम रहा। वहीं न्यूनतम तापमान 25:2 डिग्री सेल्सियस रहा जिसमें कमी या बढ़ोतरी नहीं हुई। जबकि बरसात 81.1 एमएम दर्ज की गई। मौसम विभाग ने पहले से ही बरसात की संभावना जता दी थी। औसत से काफी कम बारिश हुई है अंबाला मौसम विभाग चंडीगढ़ की मानें, तो अंबाला में औसत से कम बारिश रिकार्ड की गई है। विभाग की मानें, तो एक जून से लेकर अब तक अंबाला में सामान्य से 31 फीसद कम बारिश हुई है। इस बार मानसून सीजन में यदि अंबाला में बारिश सामान्य होती तो इस सीजन में 380.7 एमएम बारिश हो चुकी होती, जबकि अभी यह आंकड़ा 263.2 एमएम ही है। यानी सामान्य से 31 फीसद कम है। ऐसे में माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में मानसून सक्रिय रहेगा और मेघ जमकर बरसेंगे।

Edited By: Jagran