संवाद सहयोगी, मुलाना : एक परिवार ने अपनी बेटी की शादी के लिए गहने बनवाए, लेकिन चोरों ने एक झटके में ही इन पर हाथ साफ कर दिया। चोरों ने करीब सात लाख रुपये के गहने और सवा लाख की नकदी चोरी कर ली है। पुलिस ने बलविदर सिंह निवासी गोकलगढ़ की शिकायत पर केस दर्ज करके कार्रवाई शुरू की है। चोर इतने शातिर थे कि जाते समय सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर भी ले गए।

बलविदर सिंह ने बताया कि वह मेट्रो मोटर्स में सेल्स मैनेजर है। वह एक अगस्त को दोपहर के समय नहोनी में अपने साले के पास परिवार सहित गया था। उन्होंने अपनी पत्नी व बेटी को वहीं छोड़ा और खुद अंबाला शहर में अपने छोटे भाई के पास आ गया। यहां पर भाई के साथ कार देखनी थी। यह काम निपटाकर करीब चार घंटे में परिवार को लेकर घर आ गया। यहां पर पहुंचकर देखा कि घर के दरवाजे का कुंडा टूटा हुआ है। भीतर गए तो पाया कि अलमारी आदि खुली पड़ी है, जबकि जेवरात व कैश गायब था। पड़ोसी ने बताया कि करीब डेढ़ बजे वह बाहर आया था तो उस समय सब कुछ सामान्य था। बलविदर ने बताया कि उनकी बेटी की शादी की तैयारियों में जुटे थे। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। इस दौरान सीन आफ क्राइम और फिगर प्रिट टीम ने भी सुबूत जुटाए। पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामला दर्ज करके आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

-------------------- तालाब की तीन एकड़ जमीन से डेढ़ करोड़ की मिट्टी चोरी

संवाद सहयोगी, शहजादपुर : गांव रछेड़ी में जिस छह एकड़ तालाब को पट्टे पर दिया था, उसी में से तीन एकड़ से करीब डेढ़ करोड़ रुपये की मिट्टी चोरी कर ली गई। करीब डेढ़ साल बाद इसकी शिकायत बीडीपीओ को दी गई थी, लेकिन इस दौरान आरोपित आराम से मिट्टी को बेचता रहा। शहजादपुर थाना पुलिस ने बीडीपीओ किन्नी गुप्ता की शिकायत पर सुरजीत सिंह निवासी रछेड़ी के खिलाफ केस दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार साल 2019 में गांव रछेड़ी के सुरजीत सिंह को छह एकड़ तालाब को दस साल के पट्टे पर दिया था। लेकिन इस तालाब की तीन एकड़ जमीन से लगातार मिट्टी चोरी की जाती रही। इसी को लेकर बिच्छा सिंह, श्योराम, बलदेव व रुलदा राम ने एक शिकायत जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी को दी, जो बाद में बीडीपीओ शहजादपुर के पास पहुंची। यह शिकायत बीडीपीओ आफिस में 30 जून 2021 को पहुंची। इसी पर बीडीपीओ व संबंधित ग्राम सचिव द्वारा मौके का मुआयना किया गया। इस दौरान पाया गया कि तालाब से मिट्टी चोरी की गई है। तालाब के तीन एकड़ रकबा से यह मिट्टी चोरी हुई है, जिसकी कीमत करती डेढ़ करोड़ रुपये के आसपास है। छानबीन में साफ हो गया कि आरोपित सुरजीत सिंह ने पट्टे की शर्तों का उल्लंघन करते हुए मिट्टी की चोरी की, जिससे पंचायत को काफी नुकसान हुआ है।

Edited By: Jagran