जागरण संवाददाता, अंबाला : छावनी के पंसारी बाजार एसोसिएशन के प्रधान को मंगलवार देर शाम फोन पर किसी ने अपशब्द बोले और माया वाला चौक पर आने के लिए कहा। कुछ देर बाद ही प्रधान अपने एक अन्य साथी के साथ वहा पहुंचे। लेकिन वहा पहले से मौजूद कुछ युवकों ने प्रधान विकास सिंगला के साथ मारपीट की और चार युवकों ने उन पर बंदूकें तान दीं। किसी तरह से विकास सिंगला अपनी जान बचाकर सदर थाने में पहुंचे। देर रात जब समझौते की बात चल रही थी तो एक पक्ष के युवक को एसएचओ ने जब थप्पड़ मारे तो विवाद फिर से भड़क गया। रात करीब 12 बजे सभी भाजपा समर्थकों ने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के निवास पर पहुंच गये। मंत्री विज ने सभी को सुबह कार्रवाई का आश्वासन देकर भेज दिया।

बताते चलें कि शाम को वारदात के समय सूचना मिलते ही हाउसिंग बोर्ड चौकी और सदर थाना पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन कुछ देर बाद ही दोनों पक्ष अपने-अपने साथियों समेत थाने में पहुंच गए और एक-दूसरे के खिलाफ लिखित शिकायत दी। देर रात पुलिस को दी गई शिकायत में भाजपा से जुड़े एक कार्यकर्ता खटीक मंडी निवासी के भतीजे व अन्य युवकों पर आरोप लगाए गए। दूसरे पक्ष ने भी सिंगला के खिलाफ शिकायत दी।

दूसरे पक्ष के मोहित निवासी खटीक मंडी ने विकास सिंगला पर आरोप लगाते हुए शिकायत दी है कि शाम को विकास कुछ युवकों के साथ उसके घर पर आया था। उसने हथियार के बल पर उसे बाहर निकाला और मायावाला चौक के पास ले जाकर उससे मारपीट की है। रात में जब समझौते की बात चल रही थी तो एसएचओ ने दूसरे पक्ष के युवक थप्पड़ जड़ दिए जिससे विवाद फिर से भड़क गया। सभी भाजपा वर्कर रात में ही मंत्री विज की कोठी में पहुंच गये। सदर थाना प्रभारी विजय कुमार ने बताया कि अभी मामले की जाच की जा रही है। शिकायत के आधार पर कार्रवाई की जा रही है।

Posted By: Jagran