जागरण संवाददाता, अंबाला शहर

राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत स्वास्थ्य विभाग की ओर से मंगलवार को शहर राजकीय पुलिस लाइन कन्या स्कूल में छात्राओं को उम्र के हिसाब से आने वाले बदलों से जागरूक किया गया। कार्यक्रम में सिविल सर्जन डॉक्टर संत लाल वर्मा ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत करते हुए विद्यार्थियों को अहम जानकारी दी। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग की ओर से सर्वे भी करवाया गया। इसमें 200 छात्राओं ने हिस्सा लिया। सर्वे में 191 छात्राओं यानी 95.5 फीसद छात्राओं ने माना कि उन्हें मासिक धर्म के बारे में जानकारी है। 79 फीसद यानी 158 छात्राओं ने माना कि वह मासिक धर्म के दौरान स्कूल जाना या घर से बाहर निकलना पंसद नहीं करती। 45 फीसद छात्राएं मासिक धर्म के दौरान योग और खेलकूद नहीं करती जबकि 41 फीसद ऐसा करती हैं। 28 फीसद कभी कर लेती हैं कभी नहीं करती। 127 छात्राओं यानी 63.5 फीसद ने बताया कि उन्हें महिला प्रजनन प्रणाली के बारे में जानकारी है जबकि 86.5 प्रतिशत यानी 173 छात्राओं को पुरुष प्रजनन प्रणाली की जानकारी नहीं थी। इस तरह जिन-जिन विषयों पर छात्राओं को जानकारी नहीं थी उनके बारे में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छात्राओं को जागरूक करते हुए उनकी हर संका का समाधान किया। सिविल सर्जन डॉक्टर संत लाल वर्मा ने बताया कि मासिक धर्म के दौरान विशेष सफाई का ध्यान रखना चाहिए। इस दौरान मासिक धर्म पर लघु नाटिका भी पेश की गई। इससे पहले स्कूल प्रिसिपल सतविद्र सिंह ने सिविल सर्जन व अन्य अधिकारियों का स्वागत किया। कार्यक्रम में डिप्टी सिविल सर्जन स्कूल हेल्थ डाक्टर बेला, डाक्टर नेहा कौशल जिला किशोर स्वास्थ्य अधिकारी, डॉक्टर कविता व डॉक्टर कुलविद्र कौर ने भी छात्राओं का मार्गदर्शन किया। स्कूल शिक्षिका अन्नु ने भी छात्राओं को जानकारी देते हुए उनकी शंका का समाधान किया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस