जागरण संवाददाता, अंबाला

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि हरियाणा वक्फ बोर्ड उत्तरी भारत के कल्याणकारी संगठनों में से एक और यह दूरदर्शी सोच रखने वाली संस्था है। बोर्ड के अब तक प्रयास काफी सराहनीय है। वे अंबाला छावनी में स्थित हरियाणा वक्फ बोर्ड कार्यालय में 21 लाख रुपये की लागत से 30 किलोवाट के सोलर पावर सिस्टम का शुभारंभ करने के बाद बोल रहे थे। इस दौरान बोर्ड के अधिकारियों ने उनका स्वागत भी किया। विज ने कहा कि हरियाणा वक्फ बोर्ड सौर ऊर्जा जैसे गैर परंपरागत स्रोत के दोहन के लिए सही दिशा में कार्य कर रही है। हरियाणा वक्फ बोर्ड के प्रशासक डॉ. हनीफ कुरैशी ने बताया कि इस सोलर सिस्टम के अतिरिक्त सात किलोवाट का रूफ टॉप सोलर पैनल दरगाह नौगजा पीर शाहबाद तथा पानीपत में सूफी संत हजरत बू-अलीशाह कलंदर की दरगाह में भी 6.45 लाख रूपये प्रति की लागत से स्थापित किया गया है। मेवात इंजीनियरिग कालेज में 58 लाख रुपये की लागत से 48 किलोवाट का सोलर पावर प्लांट लगाना प्रस्तावित है। विज ने डॉ. कुरैशी की लिखी पुस्तक मार्टियर्ज आफ हरियाणा पुलिस का भी विमोचन किया। विज ने दिया आश्वासन देंगे ग्रांट

बोर्ड पदाधिकारियों ने इस दौरान शिक्षण संस्थानों के लिए ग्रांट की डिमांड भी रखी, जिसे मंत्री विज ने कहा कि इसे अवश्य पूरा किया जाएगा। बोर्ड की ओर से मेवात इंजीनियरिग कॉलेज के लिए खेल कांप्लेक्स तथा स्पो‌र्ट्स ट्रैक, हाली पब्लिक स्कूल पानीपत के लिये इंडोर और आउटडोर खेल सुविधाएं तथा डिस्पेंसरी, मोहल्ला गौस अली पानीपत में स्थापित डिस्पेंसरी को अपग्रेड करने और बोह गांव में वक्फ संपत्ति पर एक सामुदायिक भवन का निर्माण करने के लिए सहायता का आग्रह किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप