जागरण संवाददाता, अंबाला : छावनी के पूजा विहार में मकान 77 में रहने वाले और पुलिस महकमे से रिटायर उजागर सिंह ने पीजीआइ में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। उजागर सिंह मंगलवार को मोटर साइकिल पर सवार होकर साहा से आ रहे थे और छोटे खुड्डा के पास कार ने उसे कार ने टक्कर मार दी थी। घायल हालात में उनको पहले नागरिक अस्पताल और उसके बाद पीजीआइ रेफर कर दिया गया है। बुधवार को उजागर जिदगी की लड़ाई हार गया। महेश नगर थाना पुलिस ने बेटे राजकुमार सिंह की शिकायत पर कार चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। शिकायतकर्ता राज कुमार ने बताया कि उसके पिता उजागर सिंह हरियाणा पुलिस विभाग से वर्ष 2015 से रिटायर हुए थे और मंगलवार को उसके पिता अपनी मोटरसाइकिल नंबर पर सुबह करीब 10 बजे अपने निजी काम से कस्बा साहा जिला अंबाला मे गए हुए थे। काम करने के बाद उसके पिता बाइक से लौट रहे थे। जैसे ही खुड्डा खुर्द के पास पहुंचे तो सामने से आ रही कार ने उसे टक्कर मार दी थी। जब पीछे से वह अपने चाचा रणबीर सिंह के साथ दूसरी बाइक पर सवार होकर आ रहे थे तो उसके पिता घायल हालात में मिले। जिन्हें इलाज के लिए बाद में राहगीरों की मदद से नागरिक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लेकिन अस्पताल में उसके पिता की हालत बिगड़ी तो उसे पीजीआइ रेफर कर दिया। जहां पर घायल ने दम तोड़ दिया। पुलिस बुधवार को मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस