अवतार चहल, अंबाला शहर

हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (एचएसवीपी) ने ड्यूज रखने वालों पर कड़ा रुख अख्तियार कर लिया है। जिसके चलते उन पर दस फीसद जुर्माना लगाया जाएगा। प्राधिकरण की ओर से लगभग 800 प्लाट धारकों को नोटिस दिए गए थे, परंतु प्लाटधारकों ने इसकी कोई परवाह नहीं की। इस पर प्राधिकरण ने 73 प्लाट धारकों की राशि में दस फीसद अतिरिक्त बढ़ोतरी कर दी है।

बता दें कि हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के सेक्टरों में प्लाटधारकों की काफी राशि ड्यूज है। यह राशि एक्सटेंशन फीस, एन्हांसमेंट और इंस्टालमेंट की बकाया है। इसमें अंबाला शहर के सेक्टर नंबर आठ और नौ हैं, वहीं सेक्टर 34 में भी इस तरह के प्लाटधारक हैं।

------

-3 हजार से सवा लाख तक की राशि है बकाया

एचएसवीपी की ओर से जिन प्लाटधारकों को जुर्माना लगाया गया है। इसमें इनका तीन हजार रुपये से लेकर एक लाख 33 हजार तक बकाया पड़ा है। काफी समय गुजर जाने के बाद भी विभाग की राशि जमा नहीं करवायी गई। इसके बाद विभाग की ओर से कार्रवाई की जा रही है।

----- -शहर व छावनी के सेक्टर में हैं प्लाटधारक

अंबाला शहर और छावनी के सेक्टरों में 73 प्लाटधारक हैं, जिनके ड्यूज बाकी हैं। इनमें सेक्टर दस के 50 प्लाट हैं, बाकी अन्य सेक्टर समेत 73 हैं। जिन्हें पेनेलटी इंपोज की जा रही है। विभाग की ओर से प्लाटधारकों को 17(1) और 17(2) के तहत नोटिस दिए गए थे। दो नोटिस दिए जाने के बाद भी कोई रिस्पांस नहीं दिखाया। ऐसे में प्राधिकरण ने कदम उठाया है।

----- -किस्त नहीं भरने वालों के प्लाट किए जा चुके हैं जब्त

हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की ओर से किस्त न भरने वाले प्लाट धारकों पर पहले भी कार्रवाई की जा चुकी है। जिसमें किस्त न भरने वालों के प्लाट जब्त किये गए थे। एचएसवीपी ने सेक्टर 8 के चार कमर्शियल प्लाट और सेक्टर 34 में एक रिहायशी प्लाट को जब्त किया था। 277 कमर्शियल, 3099 आवासीय और 6 संस्थान संचालक डिफाल्टर थे। जिनकी करोड़ों रुपये की राशि के ड्यूज बकाया चल रही थी। विभाग ने डिफाल्टरों को नोटिस दिए थे।

------------ विभाग की ओर से ड्यूज न देने वाले प्लाटधारकों पर कार्रवाई की गई है। इन्हें नोटिस दिए गए थे, परंतु कोई जवाब नहीं मिला। इस पर विभाग ने इन्हें दस फीसद पेनाल्टी लगाई गई है।

अशोक कुमार, संपदा अधिकारी, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण।

Edited By: Jagran