जागरण संवाददाता, अंबाला : किसानों ने मिलीभगत कर एक आढ़ती को 17 लाख रुपये का चूना लगा दिया। आढ़ती विवेक गर्ग की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्जकर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने इस केस के संबंध में डिप्टी डिस्ट्रिक्ट अटार्नी (डीडीए) से राय ली, जिसके बाद कैंट सदर थाना पुलिस ने केस दर्ज कर आगामी जांच शुरू कर दी है।

पुलिस को विवेक गर्ग ने बताया कि गांव सपेहड़ा के रहने वालों बंत सिंह, जगतार सिंह और अवतार सिंह ने उसे लाखों रुपये का चूना लगा दिया। उन्होंने बताया कि वे कमीशन एजेंट (आढ़ती) हैं और फसलों की खरीद फरोख्त का काम करता है। यह तीनों किसान हैं और कई सालों से मिलीभगत कर उसे चूना लगा रहे हैं। यह किसान उसे अपनी फसलें बेचते रहें और इसी कारण से पारिवारिक जैसे संबंध भी बन गए। इसी विश्वास का फायदा उठाकर इन लोगों ने खेतीबाड़ी और व्यक्तिगत जरूरतों को लेकर उसके पास से कर्ज ले लिया। साथ ही कहा फसल बिक्री में यह सारा कर्ज उतार दिया जाएगा। यदि फसल बिक्री से भी कर्ज नहीं पूरा होता, तो जमीन बेचकर यह कर्ज चुका दिया जाएगा। इसी के चलते करीब 17 लाख रुपये का कर्ज उनको दे दिया। इसी के तहत इन किसानों ने फसल कम करके बेचना शुरू कर दिया। इन किसानों ने बाद में कर्ज उतारने में असमर्थता जता दी। इसके बाद भी जब इन किसानों से रुपये मांगे जाते, तो वे आनाकानी करने लगे। किसानों ने 17 लाख रुपये लिखित में माना, जबकि छह माह में इसे क्लीयर करने का दावा भी किया। इसके बाद भी यह शातिर आना-कानी करते रहे और कर्ज नहीं चुकाया। इस संबंध में जहां एसपी अंबाला को शिकायत दी गई, जबकि आर्थिक अपराध शाखा ने भी जांच की। इसी को लेकर इन शातिरों ने धमकी तक दी। इस बारे में उक्त गांव के लोगों से भी बात की, लेकिन कुछ नहीं हुआ। शिकायतकर्ता का कहना है कि इस बारे में महेश नगर थाना पुलिस में भी शिकायत दी थी, लेकिन कुछ हासिल नहीं हुआ। इसी को लेकर डीडीए से भी राय ली गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस