जागरण संवाददाता, अंबाला शहर: अंबाला में डेंगू के मरीजों का ग्राफ 103 पर पहुंच गया है। वीरवार को डेंगू 11 पाजिटिव मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीमें घर-घर जाकर बुखार के मरीजों की स्वाइड बनाने का काम जारी है। लापरवाही बतरने और डेंगू का लार्वा मिलने पर 6750 लोगों को नोटिस जारी किए हैं। सिविल सर्जन डा. कुलदीप सिंह ने बताया बदलते मौसम को देखते हुए टीमें सावधानी और सतर्कता के साथ काम जारी है। गांव से लेकर शहर में घर-घर जाकर डेंगू के लार्वा, कूलर में पानी मिलने और घर के पास पानी मिलने पर अब तक 6750 लोगों को नोटिस दिए हैं। जिन घरों में डेंगू का लार्वा मिला हैं, उनको नोटिस देने का सिलसिला जारी है। नोडल अधिकारी डा. संजीव कुमार सिगला और डा. सुनील ने बताया जिले में डेंगू के 103 डेंगू के मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 63 ठीक हो चुके हैं और अन्य का उपचार चल रहा है। जिला में अभी तक मलेरिया का कोई भी मामला सामने नहीं मिला है, और फोगिग का कार्य भी निरंतर जारी है। कोविड-19 जैसी जानलेवा बीमारी के साथ-साथ मलेरिया, डेंगू व चिकिनगुनिया की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग पेनी नजर बनाए हुए हैं।

------------------

मच्छरों की बढ़ोतरी तेजी से होती है

मच्छर ठहरे (एकत्रित) हुए पानी मे अंडे देते हैं, जिससे मलेरिया व डेंगू की बीमारी फैलाने वाले मच्छरों की बढ़ोतरी तेजी से होती है। इसलिए तुरंत प्रभाव से मच्छर मारने के लिये ठहरे हुए पानी मे काला तेल व टेमिफोस की दवाई का छिड़काव कराया जा रहा है। मलेरिया और डेंगू की जांच के लिए 6975 ब्लड स्लाइड ली गई हैं। ब्लड स्लाइड लेने का मुख्य उद्देश्य यही है कि खून में मलेरिया और डेंगू की सुचारू रूप से जांच की जाए।

Edited By: Jagran